जम्मू-कश्मीर में शनिवार को सिक्युरिटी फोर्सेस ने 2 एनकाउंटर ऑपरेशन्स, एक रामपुर सेक्टर तो दूसरा त्राल में चलाया। 24 घंटे में आर्मी ने 10 आतंकी मार गिराए हैं। त्राल के एनकाउंटर में हिजबुल मुजाहिदीन का टॉप कमांडर सब्जार अहमद भट भी मारा गया। आतंकियों के मारे जाने के बाद घाटी में कई जगह लोगों ने आर्मी पर पथराव किया है।
सब्जार बुरहान वानी का उत्तराधिकारी था। बुरहान को सिक्युरिटी फोर्सेस ने पिछले साल 8 जुलाई को मार गिराया था। बुरहान को कश्मीर में पोस्टर ब्वॉय माना जाता था। वह युवाओं की आतंकी संगठन में भर्ती करता था। इसके पूर्व इंडियन आर्मी ने शुक्रवार को पाकिस्तान बॉर्डर एक्शन टीम (BAT) के 2 आतंकियों को तब मार गिराया था, जब वे उड़ी सेक्टर में LOC के पास आर्मी की पैट्रोलिंग टीम पर अटैक की प्लानिंग कर रहे थे।

जम्मू-कश्मीर के DGP एसपी वैद के अनुसार त्राल में शनिवार को हुए एनकाउंटर में बुरहान के उत्तराधिकारी सब्जार अहमद भट सहित 2 आतंकी मारे गए। पुलिस के मुताबिक हिजबुल आतंकियों के छिपे होने की सूचना मिलने पर सिक्युरिटी फोर्सेस ने त्राल के सोइमो गांव में सर्च ऑपरेशन चलाया था। शुक्रवार की रात को आर्मी पैट्रोलिंग पार्टी पर फायरिंग भी हुई थी। इसके बाद सर्चिंग शुरू की गई, जिसमें 4 एके-47 राइफलें भी बरामद की गयी हैं।
आर्मी के मुताबिक बीते 24 घंटे में हमने 10 आतंकी मार गिराए हैं। आर्मी रमजान के महीने में कश्मीर में अशांति फैलाने की पाक की कोशिशें नाकाम करने में लगी है। सब्जार अहमद भट, बुरहान का बचपन का दोस्त था। बुरहान के मारे जाने के बाद सब्जार ही उसका उत्तराधिकारी बना। बुरहान के मारे जाने के बाद कश्मीर में कई महीनों तक हिंसा हुई थी। इसके चलते कर्फ्यू लगा दिया गया था।
आतंकियों के मारे जाने के बाद लोगों ने पुलवामा और अनंतनाग में आर्मी पर पथराव किया। आतंकियों के मुठभेड़ में मारे जाने के बाद बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन की आशंका को देखते हुए एहतियातन श्रीनगर में प्राइवेट इंस्टीट्यूशन समेत ज्यादातर स्कूलों और कॉलेजों में क्लालेस को सस्पेंड कर दिया गया। इंटरनेट सर्विस भी बंद कर दी गई हैं।

डिफेंस मिलिट्री स्पोक्सपर्सन कर्नल राजेश कालिया ने बताया कि बारामूला के उड़ी सेक्टर में गुलहाटा पोस्ट के पास शुक्रवार सुबह पैट्रोलिंग पार्टी पर हमला करने की कोशिश में भारी हथियार से लैस आतंकी देखे गए। जवानों ने उन्हें रोकने की कोशिश की, तभी फायरिंग शुरू हो गई। जवानों ने इन्हें मार गिराया। बाद में इनकी पहचान पाकिस्तान बॉर्डर एक्शन टीम के मेंबर्स के तौर पर हुई।
आर्मी के एक सीनियर अफसर के अनुसार यह सोचा-समझा योजनाबद्ध हमला था। पाकिस्तान आर्मी की BAT टीम LOC पार कर भारतीय सीमा में करीब 250 मीटर तक घुस आई थी और काफी देर से हमले को अंजाम देने का इंतजार कर रहे थे। सुबह पाक ने रॉकेट और मोर्टार से हमला कर भारतीय पोस्ट पर तैनात जवानों को उलझाए रखा। इसके बाद उनका टारगेट 7 से 8 मेंबर वाली पैट्रोलिंग पार्टी थी, जो पोस्ट से बाहर चेकिंग के लिए आई थी।

ताज़ा अपडेट पाने के लिए हमारे पेज को लाइक करें

loading…

Loading…





Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *