ताज महल, चीन की दिवार और लंदन की बिग बेन को पीछे छोड़ते हुए हिंदू मंदिर अंकोरवाट (कंबोडिया) 2017 की रेटिंग में दुनिया का नंबर-1 लैंडमार्क घोषित हुआ है।
अमेरिकी ट्रैवल वेबसाइट कंपनी ट्रिपएडवाइजर ने ट्रैवलर्स द्वारा हर स्थान को बारह महीने की समय सीमा में दिए गये की रेटिंग्स के आधार पर 25 मॉन्युमेंट्स की यह लिस्ट जारी की है। वैसे दुनिया की टॉप लैंडमार्क्स सूची में पहले 5 स्थानों में से 4 पर धार्मिक स्थल हैं।
ट्रिपएडवाइजर एक अमेरिकी वेबसाइट है। इस पर हर साल लाखों ट्रैवलर टूरिस्ट डेस्टिनेशंस के रिव्यू करते हैं और इसके तहत वे उन जगहों को रेटिंग भी देते हैं। कंपनी ने इन्हीं रेटिंग्स के आधार पर अपने एनुअल ट्रैवलर्स च्वॉइस अवॉर्ड घोषित करती है। इस लिस्ट में अंकोरवाट मंदिर (कंबोडिया) का 12वीं सदी में निर्मित हिंदू मंदिर ट्रैवलर्स का सबसे पसंदीदा लैंडमार्क रहा।
दूसरे नंबर पर है अबू धाबी स्थित शेख जाएद ग्रांड मस्जिद सेंटर। 2007 में बनी इस खूबसूरत मस्जिद में 82 गुंबद और 1,000 से ज्यादा खंभे हैं। यहां एक बार में 40 हजार से ज्यादा लोग नमाज अता कर सकते हैं।
सूची में तीसरे नंबर पर भी एक धार्मिक स्थल स्पेन में कोर्डोबा का मेजक्यूटा कैथेड्रल डे नामक प्राचीन चर्च है। यूनेस्को ने इसे 1984 में विश्व धरोहर घोषित किया था। टॉप लैंडमार्क की लिस्ट में चौथे स्थान पर है इटली के वैटिकन सिटी स्थित सेंट पीटर्स बैसिलिका शामिल है।

सूची के टॉप-5 में पांचवें नंबर पर ताजमहल एकमात्र लैंडमार्क है, जो उपासना स्थल नहीं है। ताजमहल भारत का अकेला दर्शनीय स्थल है जिसे टॉप 10 में जगह मिली है।
सूची में रुस के सेंटपीटर्सबर्ग स्थित चर्च ऑफ द सेवियर ऑन स्पिल्ड ब्लड छठवें नंबर पर है।
चीन की महान दीवार इस लिस्ट में सातवें नंबर पर मौजूद है। पेरु का माचु पिच्छू आठवें, स्पेन का प्लाजा दे एस्पाना नौवें और इटली का डुओमो दी मिलानो दसवें नंबर पर स्थित है।
हालांकि पुरे एशिया की सूची में भी कंबोडिया के अंकोरवाट मंदिर के बाद ताजमहल दूसरे नंबर पर मौजदू है। एशिया सूची में भारत के दस सबसे दर्शनीय स्थलों में ताज महल पहले स्थान पर है। इसके बाद क्रमश: आमेर किला (जयपुर), स्वामीनारायण अक्षरधाम (दिल्ली), बांद्रा वलीर् समुद्री मार्ग (मुंबई), कुतुब मीनार (दिल्ली), आगरा किला, हरमंदर साहिब (अमतसर), हुमायूं का मकबरा (दिल्ली), गेटवे आफ इंडिया (मुंबई) व मेहरानगढ़ का किला (जोधपुर) है।

ताज़ा अपडेट पाने के लिए हमारे पेज को लाइक करें

loading…

Loading…





Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *