पेप्सीको की पूर्व CEO इंद्रा नूयी वर्ल्ड बैंक की तेरहवीं अध्यक्ष बन सकती हैं. इंद्रा नूयी अमेरिकी राष्ट्रपति राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की बेटी और व्हाइट हाउस की सलाहकार इवांका ट्रंप की करीबी हैं, इवांका ने नूयी को अपना गुरू भी बताया था.
वर्ल्‍ड बैंक के वर्तमान अध्यक्ष जिम योंग किम ने इस महीने की शुरुआत में कहा था कि वह फरवरी में अपना पद छोड़ देंगे. इसके बाद खबर आई कि डोनाल्ड ट्रंप अपनी बेटी इवांका को वर्ल्ड बैंक का प्रमुख बनायेंगे, हाँलाकि बाद में स्पष्ट किया गया कि चूँकि इवांका स्वयं वर्ल्ड बैंक प्रमुख चुनने वाली समिति में हैं इसलिए उनके इस पद पर जाने का सवाल ही नहीं है.
विश्‍व बैंक के अध्‍यक्ष पद के लिए अमेरिका की भूमिका काफी अहम है क्योंकि वर्ल्‍ड बैंक के सबसे बड़े शेयरधारक होने की वजह से अध्‍यक्ष पद की नियुक्ति करता है. वर्तमान अध्‍यक्ष जिम योंग किम को 2012 में पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने नामित किया था. ये पहली बार है जब डोनाल्ड ट्रंप की अगुवाई में वर्ल्ड बैंक के अध्यक्ष का चयन होगा.
पेप्सिको की CEO पद पर 12 वर्ष रहने के बाद इंद्रा नूयी (63 वर्ष) ने पिछले ही साल अपना पद छोड़ा था. हाँलाकि वो इस कंपनी से पिछले 24 साल से जुड़ी थीं और 2006 में वो कंपनी की CEO बनी थीं. वो 2019 तक कंपनी की चेयरमैन बनी रहेंगी.
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को अपने आर्थिक एजेंडे को लागू करने में इंदिरा नूयी ने काफी मदद की थी. इंदिरा नूयी ट्रंप के स्ट्रेटेजिक एंड पॉलिसी फोरम में शामिल थीं. नूयी के अलावा वित्त मंत्रालय में अंडर सेक्रेटरी डेविड मैलपास के नाम की भी चर्चा वर्ल्ड बैंक के नये अध्यक्ष के रूप में चल रही है. ज्ञात है कि मैलपास अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव प्रचार के दौरान ट्रंप के आर्थिक सलाहकार रहे थे. हालांकि यह स्‍पष्‍ट नहीं है कि इस पद के लिए हुए नूई का क्या विचार है.
चेन्नई में जन्मीं नूयी को हिंदुस्तान की ताकतवर महिलाओं में से एक माना जाता है. कई कंपनियों में काम करने के बाद 1994 में इंदिरा ने पेप्सिको ज्वाइन किया और 2006 में कंपनी की कमान संभाली थी. उनके ज्वाइन करने के बाद से पेप्सिको के शेयर में 78 फीसदी तक का इजाफा हो चुका है. दुनिया की चर्चित पत्रिका फोर्ब्स ने सौ सबसे प्रभावशाली महिलाओं की सूची में नूई को कई बार शामिल किया है, 2017 में नूयी इस सूची में 11वें नंबर पर थीं. 2007 में उन्हें भारत का प्रतिष्ठित पद्म भूषण सम्मान दिया गया था.



loading…

Loading…






Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *