प्रतिज्ञा हाउसिंग फाइनेंस एंड कंस्ट्रक्शन कंपनी लिमिटेड के पिछले चार साल से फरार चल रहे रीजनल मैनेजर मो. सरफुद्दीन उर्फ सरफराज अहमद के भागलपुर जिला के हबीबपुर थाना क्षेत्र के मोअज्जमचक स्थित घर आर्थिक अपराध इकाई पटना की टीम ने कुर्की-जब्ती की।
उक्त कंपनी 2013 में भागलपुर जिले से 18 करोड़ रुपए लेकर रातोंरात भाग गई थी। इसके बाद ग्राहक और कंपनी के एजेंटों ने भागलपुर कोर्ट और आर्थिक अपराध इकाई में केस दर्ज कराया था। इसमें कंपनी के डायरेक्टर दीपेंद्र बनर्जी, सम्मित बनर्जी, श्रद्धा बनर्जी, रीजनल मैनेजर मो. सरफुद्दीन समेत कुल 10 लोगों को आरोपी बनाया था। गिरफ्तारी नहीं होने की सूरत में पुलिस ने कोर्ट के आदेश से कुर्की-जब्ती की कार्रवाई की।

रीजनल मैनेजर मो. सरफुद्दीन के बंद घर में कुर्की करने पहुंची टीम को कुछ विशेष नहीं मिला। चार साल से बंद घर में टीम को कुर्की के नाम पर सोफा, गद्दा, दरवाजा, चौखट व एसी मिले। जब्त सारे सामान को हबीबपुर थाने में रखा गया है। कुछ साल पहले बंद पड़े इस घर में चोरी भी हो गई थी। जगदीशपुर प्रखंड के सीओ निरंजन ठाकुर और हबीबपुर पुलिस की मौजूदगी में कुर्की-जब्ती की कार्रवाई पूरी हुई। दरवाजा पर लगा ताला तोड़ कर पुलिस ने घर में प्रवेश किया। कुर्की-जब्ती की पूरी कार्रवाई की वीडियोग्राफी भी करवाई गई।
भागलपुर जिले के 55 एजेंटों का 18 करोड़ रुपए लेकर कंपनी भागी है। साढ़े चार साल में कंपनी ने जमा पूंजी को दोगुना करने का सब्जबाग ग्राहकों को दिखाया था। एजेंट मृत्युंजय कुमार ने 1.50 करोड़, संदीप कुमार ने 1.25 करोड़, श्रीधर प्रसाद मंडल ने 1.20 करोड़, तसलीम खान ने 45 लाख, मो. हसनैन ने 29 लाख, मो. इरशाद ने 25 लाख, सुमित कुमार ने 9 लाख, मो. जसीमुद्दीन एवं मो. शाहिद ने 8-8 लाख, विनोद चौधरी 7 लाख तथा रंजीत कुमार ने 3 लाख रूपये जमा कराए हैंl

loading…



Loading…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *