आम आदमी पार्टी ने पीएसी की बैठक में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर रिश्वत लेने का आरोप लगाने वाले कपिल मिश्रा को पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निलंबित कर दिया. इसके पहले कपिल मिश्रा ने उन्हें पार्टी से निकालने की पीएसी को चुनौती दी थी. कपिल मिश्रा ने कहा था कि मैं पीएसी को चुनौती देता हूं कि वह मुझे पार्टी से निकालकर दिखाए, बंद कमरे में पार्टी से निकालने का लिया गया फैसला मंजूर नहीं होगा. कपिल मिश्रा ने कहा कि आप सरकार के खिलाफ सबूतों को वह मंगलवार को सीबीआई को सौंपेंगे. पूर्व मंत्री ने कहा कि सीबीआई ने मिलने के लिए उन्हें कल 11.30 बजे का वक्त दिया है. इसके पूर्व कपिल मिश्रा ने आरोप लगाया कि अरविंद केजरीवाल ने स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन के जरिए 50 करोड़ रुपए की एक लैंड डील अपने साढ़ू के लिए करवाई. कपिल मिश्रा ने रविवार को आरोप लगाया था कि उन्होंने खुद अपनी आखों से केजरीवाल को सत्येंद्र जैन से दो करोड़ रुपए लेते हुए देखा. कपिल मिश्रा के इन आरोपों के बाद भाजपा और कांग्रेस ने केजरीवाल से इस्तीफा मांगा है लेकिन मिश्रा के आरोपों के बाद केजरीवाल सफाई देने के लिए आगे नहीं आए, उन्होंने इसके लिए उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया और प्रवक्ता संजय सिंह को आगे किया. सोमवार की रात अरविंद केजरीवाल ने ट्विट किया कि विजय सत्य की होगी.
loading…
Loading…

Leave a Reply

Your email address will not be published.