भारतीय जनता पार्टी के नेता और बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर बड़ा आरोप लगाया है। सुशील मोदी ने एक प्रेस रिलीज जारी कर कहा है कि नीतीश कुमार ही लालू यादव का फोन टैप करवा रहे थे और अब प्रधानमंत्री बनने के लिए वो इस टैप का इस्तेमाल लालू यादव के खिलाफ कर रहे हैं ताकि लालू बाध्य होकर उन्हें समर्थन कर सकें। उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार को टेप की पूरी जानकारी थी। इसीलिए उन्होंने इसका खंडन नहीं किया लेकिन अब वो जांच किस बात की कराएंगे. सुशील मोदी ने राजद नेता शहाबुद्दीन से जुड़े नीतीश सरकार से ताबड़तोड़ कई सवाल पूछे। मोदी ने पूछा कि पिछले तीन साल से माफिया डॉन सीवान जेल से समानांतर सरकार चला रहे थे तो आपने क्यों नहीं रोका? इसके अलावा साल 2015 के विधान सभा चुनाव में शहाबुद्दीन की मदद क्यों ली? मोदी ने नीतीश कुमार से यह भी पूछा है कि शराबबंदी की तरह पटना हाईकोर्ट में बड़े वकील रखकर शहाबुद्दीन का विरोध क्यों नहीं किया? मोदी ने कहा कि अपनी सरकार बचाए रखने के लिए ही नीतीश ने पूरे प्रकरण पर चुप्पी साधे रखी। जदयू ने मोदी के आरोपों का जवाब देते हुए कहा कि अगर लालू यादव और नीतीश कुमार शहाबुद्दीन पर मेहरबान होते तो आज शहाबुद्दीन तिहाड़ जेल में बंद होते क्या? उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ने सभी अधिकारियों को निर्देश दे रखा है कि हरेक मामले में कानून के मुताबिक कार्य होगा और वही हो रहा है।

loading…



Loading…




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *