आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने गोरक्षकों को नसीहत दी है कि गाय की रक्षा करते हुए कानून का पालन अवश्य करना चाहिए। साथ ही कहा है कि पूरे देश में गोहत्या रोकने वाला कानून होना चाहिए। भागवत, दिल्ली में महावीर जयंती पर एक कार्यक्रम में बोल रहे थे। पिछले दिनों राजस्थान के अलवर में गो-तस्करी के आरोपी की पीटने से एक व्यक्ति की मौत हो गई थी, जिसे लेकर संसद में काफी हंगामा हुआ था। शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट ने गोरक्षकों पर लगाम लगाने की मांग को लेकर दायर पिटीशन पर सुनवाई करते हुए कोर्ट ने 6 राज्यों-राजस्थान, गुजरात, यूपी, झारखंड, कर्नाटक और महाराष्ट्र की सरकारों को नोटिस जारी कर 3 हफ्ते में जवाब तलब किया है। कोर्ट ने कहा है कि क्यों न ऐसे गोरक्षकों के ग्रुप पर बैन लगा दिया जाए। पिटिशनर के वकील ने कहा कि अलवर में गोरक्षकों की भीड़ ने कथित तौर पर एक शख्स की जान ले ली। वकील ने दावा किया इन राज्यों की जमीनी हालत ठीक नहीं है क्योंकि गोरक्षकों के ग्रुप्स वहां हिंसा पर उतारू हैं। पिटीशन में कहा गया था कि ये गोरक्षक ग्रुप हिंसा के लिए कमिटेड हैं, यहां तक कि पीएम नरेंद्र मोदी ने भी कहा था कि ऐसे लोग सोसायटी को नष्ट कर रहे हैं। भागवत ने कहा कि ‘हम देशभर में गोवध पर रोक लगाने वाला कानून चाहते हैंl उन्होंने कहा कि गोवध के नाम पर कोई भी हिंसा उद्देश्य को बदनाम करती है सभी को कानून का पालन करना ही चाहिएl साथ ही उन्होंने कहा कि कानून का पालन करते हुए गाय की रक्षा करने का काम जारी रहना चाहिएl
loading…
Loading…

Leave a Reply

Your email address will not be published.