भारत ने न्यूजीलैंड को तीसरे वनडे में 7 विकेट से हराकर पांच वनडे की सीरीज में 3-0 की अजेय बढ़त हासिल कर ली. मैच में न्यूजीलैंड ने टॉस जीतकर बल्लेबाजी का फैसला किया और उसकी पूरी टीम 49 ओवर में 243 रन पर ऑलआउट हो गई. जवाब में भारत ने यह लक्ष्य तीन विकेट गंवा कर 43 ओवर में हासिल कर 7 विकेट से मैच और सीरीज पर कब्जा कर लिया. मोहम्मद शमी को ‘मैन ऑफ द मैच’ का अवॉर्ड मिला.
टीम इंडिया ने न्यूजीलैंड में 10 साल बाद वनडे सीरीज जीती है. इससे पहले भारत ने महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में 2009 में पांच वनडे की सीरीज 3-1 से जीती थी. आज के मैच में न्यूजीलैंड की ओर से रॉस टेलर ने सबसे ज्यादा 93 रन बनाए, जबकि भारत के लिए मोहम्मद शमी ने 3, हार्दिक पंड्या, भुवनेश्वर कुमार और युजवेंद्र चहल ने 2-2 विकेट लिए. माउंट माउनगानुई में लक्ष्य का पीछा करने उतरी टीम इंडिया ने 43 ओवर में 3 विकेट पर 245 रन बनाये, जिसमें रोहित शर्मा ने 62 और कप्तान विराट कोहली ने 60 रन की पारी खेली. शिखर धवन ने 28 रन बनाये जबकि दिनेश कार्तिक 38 और अंबाती रायडू 40 रन बनाकर नाबाद रहे.
मोहम्मद शमी ने मैच के 9 ओवर में 41 रन देकर ओपनर कॉलिन मुनरो, रॉस टेलर और ईश सोढ़ी के तीन विकेट लिए और मैन ऑफ द मैच चुने गए. पिछले मैच में भी वे ही मैन ऑफ द मैच चुने गए थे. भारतीय टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही, 39 रन पर टीम को पहला झटका तब लगा जब ट्रेंट बोल्ट ने शिखर धवन (28 रन) को रॉस टेलर के हाथों कैच आउट करा दिया. इसके बाद रोहित और विराट ने दूसरे विकेट के लिए 113 रन जोड़े तब रोहित शर्मा (62) को मिशेल सैंटनर ने स्टम्प करा दिया. उस समय टीम का स्कोर 152 था, 16 रन बाद ही विराट कोहली (60) को ट्रेंट बोल्ट ने पवेलियन भेज दिया. बाकी काम दिनेश कार्तिक (38) और अंबाती रायडू (40) ने नाबाद रहते हुए पूरा किया.
न्यूजीलैंड को पहला झटका पारी के दूसरे ही ओवर में ही लगा, जब शमी ने मुनरो (नौ गेंद में 7 रन) को स्लिप में रोहित शर्मा के हाथों कैच आउट करा दिया. भुवनेश्वर कुमार ने सातवें ओवर की पहली गेंद पर मार्टिन गुप्टिल (15 गेंद में 13 रन) को विकेटकीपर दिनेश कार्तिक को कैच कराकर पवेलियन भेज दिया. 17वें ओवर की दूसरी गेंद पर विलियम्सन (48 गेंद में 28 रन) को युजवेंद्र चहल ने आउट कर दिया. विलियम्सन का मुश्किल कैच हार्दिक पंड्या ने डाइव लगाते हुए लिया. चहल ने ही 38वें ओवर में टॉम लाथम (51रन) को रायडू के हाथों कैच कराया. हेनरी निकोलस भी 6 रन बनाकर 40वें ओवर में चलते बने. हार्दिक पंड्या ने उन्हें विकेटकीपर कार्तिक के हाथों कैच आउट कराया. छठे विकेट के रूप में मिशेल सैंटनर (3 रन) को हार्दिक ने ही 42वें ओवर की तीसरी गेंद पर चलता किया. सैंटनर भी कार्तिक को अपना कैच थमा बैठे.
शमी ने अपने दूसरे स्पेल की पहली गेंद पर ही नौ चौके की सहायता से 93 रन बना चुके टेलर को आउट कराया. टेलर ने भी कार्तिक को अपना कैच थमा दिया. शमी को पुनः तीसरी सफलता तब मिली जब उन्होंने ईश सोढ़ी (12 रन) को कोहली के हाथों कैच आउट कराया. पिछले वनडे में अर्धशतक लगाने वाले डग ब्रेसवेल (15) को 49वें ओवर की पहली गेंद पर ही कोहली ने रन आउट कर दिया और इसी ओवर की आखिरी गेंद पर ट्रेंट बोल्ट (2) को भुवनेश्वर ने शमी के हाथों कैच करा दिया.


ऑस्ट्रेलिया में पहली बार द्विपक्षीय वनडे सीरीज पर कब्जा करने के बाद भारतीय टीम ने न्यूजीलैंड में कीवियों के खिलाफ दस साल बाद बाइलेट्रल वनडे सीरीज पर कब्जा जमाते हुए 3-0 से अजेय बढ़त हासिल कर ली है. भारत को कीवियों के खिलाफ न्यूजीलैंड में आखिरी वनडे सीरीज जीत 2009 में मिली थी. न्यूजीलैंड की धरती पर भारत 1976 से खेल रहा है. न्यूजीलैंड में भारत की यह 8वीं द्विपक्षीय वनडे सीरीज है. कीवियों की सरजमीं पर भारत ने अब 2 द्विपक्षीय वनडे सीरीज जीत ली हैं. उसे 4 सीरीज गंवानी पड़ी है, जबकि दो सीरीज ड्रॉ रही. भारत ने कीवियों के खिलाफ उसकी धरती पर 37 वनडे में से 13 जीते हैं, 21 में हार मिली है. दोनों के बीच एक मुकाबला टाई पर छूटा, जबकि 2 मैच बेनतीजा रहे.
मैच में रोहित ने विराट के साथ मिलकर दूसरे विकेट के लिए 113 रन की साझेदारी की, वनडे में दोनों की यह 70वीं पारी में 16वीं शतकीय साझेदारी थी. ऑस्ट्रेलिया के एडम गिलक्रिस्ट और मैथ्यू हेडन भी वनडे में 16 बार शतकीय साझेदारी कर चुके हैं, लेकिन इसके लिए उन्होंने 117 पारियों खेली थीं. रोहित- विराट का मुकाबला अब श्रीलंका के तिलकरत्ने दिलशान- कुमार संगकारा की जोड़ी से है, जिन्होंने 108 पारियों में 20 शतकीय साझेदारी की हैं. हाँलाकि वनडे में सबसे ज्यादा शतकीय साझेदारी करने का रिकॉर्ड सचिन तेंदुलकर और सौरव गांगुली के नाम है, दोनों ने 176 पारियों में 26 शतकीय साझेदारी की हैं.
अपने 199वें वनडे में रोहित शर्मा ने दो छक्के लगाये और इसी के साथ उनके वनडे में 215 छक्के हो गए. अब वनडे में छक्के लगाने के मामले में महेंद्र सिंह धोनी के साथ वो संयुक्त रूप से शीर्ष भारतीय बन गये. महेंद्र सिंह धोनी भी वनडे में 215 छक्के लगा चुके हैं, हालांकि उन्होंने रोहित से 138 वनडे ज्यादा खेले हैं.
रोहित शर्मा ने अपने 62 रनों की पारी के दौरान 21 रन बनाते ही एक और उपलब्धि हासिल करते हुए लिस्ट-ए क्रिकेट में 10,000 रन पूरे करने वाले भारत के 10वें बल्लेबाज बन गए हैं. साथ ही अपनी 260वीं लिस्ट-ए पारी में इस जादुई आंकड़े को छुने वाले रोहित भारत के चौथे सबसे कम पारियों में 10,000 रन पुरे करने वाले बल्लेबाज बन गए. लिस्ट-ए क्रिकेट की सबसे कम पारियों में दस हजार रन पुरे करने वाले में शीर्ष पर टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली (219 पारियां) हैं, दुसरे नंबर पर 252 पारियों में सौरव गांगली और तीसरे नम्बर पर मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर (257 पारियां) हैं.
विराट कोहली ने बतौर कप्तान अपने 63वें वनडे में 47वां वनडे जीता और अब वे इस मामले में वेस्टइंडीज के क्लाइव लायड और ऑस्ट्रेलिया के रिकी पोंटिंग के बाद तीसरे नम्बर पर आ गये हैं. उन्होंने विवियन रिचर्ड्स और हैंसी क्रोनिए का रिकॉर्ड तोड़ दिया, रिचर्ड्स और क्रोनिए ने 63 वनडे में कप्तानी करने के बाद 46-46 मैच जीते थे. वेस्टइंडीज के क्लाइव लायड और ऑस्ट्रेलिया के रिकी पोंटिंग ने 63 वनडे में 50-50 मैच जीते थे और आज भी वो शीर्ष पर हैं.



loading…

Loading…






Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *