जल्द ही देश को दो वर्ल्ड क्लास रेलवे स्टेशन की सौगात मिलने वाली है। ये स्टेशन एयरपोर्ट जैसी सुविधाओं से लैस होंगे और इनके जनवरी, 2019 में बनकर तैयार हो जाने की उम्मीद है। ये दो स्टेशन हैं मध्य प्रदेश का हबीबगंज और गुजरात का गांधीनगर स्टेशन, जिनके रीडेवलपमेंट का काम जोरों शोरों से चल रहा है। यह प्रोजेक्ट इंडियन रेलवे स्टेशंस डेवलपमेंट कॉर्पोरेशन (IRSDC) के सुपुर्द है। दोनों रेलवे स्टेशनों को नए अवतार में पेश करने की कुल लागत 700 करोड़ रुपए है। IRSDC के मुताबिक जनवरी के अंतिम सप्ताह या फरवरी के पहले सप्ताह में इन रेलवे स्टेशनों का इस्तेमाल शुरू हो जाएगा।


हबीबगंज रेलवे स्टेशन पब्लिक-प्राइवेट पार्टनरशिप (PPP) के तहत रीडेवलप होने वाला पहला स्टेशन है। इसे जर्मनी के Heidelberg रेलवे स्टेशन की तर्ज पर बनाया जाएगा। इसकी कुल लागत 450 करोड़ रुपए अनुमानित है। नया स्टेशन ग्लास-डोम जैसा दिखेगा। इसमें यात्रियों के लिए रिटेल एरिया, गेमिंग व म्यूजियम जोन, आलीशान वेटिंग लाउंज, फूड प्लाजा और कैफेटेरिया भी होंगे। यह एक ग्रीन स्टेशन होगा जहां दूषित जल को रिसाइकिल करके पीने योग्य बनाया जाएगा।
स्टेशन तैयार होने के बाद इसका लुक एयरपोर्ट जैसा होगा, जिसमें ट्रांजिट हॉल, कियोस्क, दुकानें, बुक स्टॉल, फूड स्टॉल्स, मॉड्यूलर क्लीन टॉयलेट्स होंगे। स्टेशन में यात्रियों के बैठने के लिए 600 सीटों का इंतजाम होगा। इस प्रोजेक्ट की अनुमानित लागत 250 करोड़ रुपए है।
गांधीनगर रेलवे स्टेशन के ऊपर एक पांच सितारा हाेटल बनाए जाने का प्लान है। इस होटल में 300 रूम होंगे। सरकार को उम्मीद है कि यह होटल पर्यटकों और व्यापारियों को आकर्षित करेगा। होटल का ग्राउंड फ्लोर रेलवे ट्रैक से 22 मीटर ऊपर होगा और तीन इमारतें होंगी जो पंखुड़ी के आकार में होंगी।



loading…

Loading…






Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *