प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बांग्लादेश में हुए 1971 के य़ुद्ध में शामिल हुए सैनिकों के सम्मान समारोह में पाकिस्तान पर निशाना साधते हुए कहा कि दक्षिण एशिया में एक देश है जो केवल आतंकवाद का विकास करना जानता है। मोदी ने कहा कि सबका साथ-सबका विकास का नारा केवल भारत के लिए नहीं है, बल्कि हर पड़ोसी देश के लिए भी है। हम चाहते हैं कि भारत के साथ-साथ उसके पड़ोसी देश भी विकास के पथ पर अग्रसर रहें। बांग्लदेश की मुक्ति के लिए 1971 में हुए युद्ध में भारत ने पूरी तरह से युद्ध के नियमों का पालन किया। स्वार्थी न बनकर हमने पूरे क्षेत्र का भला चाहा। यही कारण है कि बांग्लादेश भारत का अभिन्न पड़ोसी है। युद्ध के दौरान हमने पूरी मनावता दिखाई और वहां के कई लोगों को अपने यहां पर आश्रय दिया। पाकिस्तान पर निशाना साधते हुए मोदी ने कहा भारत और बांग्लदेश जहां विकास की विचारधारा पर आगे बढ़ रहे हैं, वहीं एक देश की मानसिकता आतंकवाद की प्रेरणा और उसकी तथा पोषक है। उस देश की सोच ऐसी है जिसका वैल्यू सिस्टम मानवता पर नहीं बल्कि हिंसा और आतंक पर बना है। उस देश के नीति निर्माताओं को मानवाद से बड़ा आतंकवाद लगता है, विकास से बड़ा विनाश, सृजन से बड़ा संहार लगता है।
loading…

Leave a Reply

Your email address will not be published.