इंटरनैशनल मॉनिटरी फंड के मुताबिक वित्त वर्ष 2017 और 2018 में वृद्धि के मामले में भारत चीन से आगे रहेगा। मौजूदा वित्त वर्ष में जीडीपी दर 7.2 प्रतिशत पर बनी रहेगी। IMF वर्ल्ड आउटलुक अपडेट के मुताबिक वृद्धि दर 2018-19 में बढ़कर 7.7 प्रतिशत पर पहुंच जाएगी। 2016-17 में भारत की वृद्धि दर 7.1 प्रतिशत रही है।
IMF ने भारत की आर्थिक वृद्धि का अनुमान अपनी अप्रैल की रिपोर्ट में दिए गए आंकड़ों के बराबर ही रखा है, लेकिन चीन के बारे में IMF ने अपने अनुमान को 2017 के लिए मामूली रूप से बढ़ाकर 6.7 प्रतिशत और वर्ष 2018 के लिये 6.4 प्रतिशत कर दिया। भारत की आर्थिक वृद्धि की रफ्तार 2017 और 2018 में चीन से अधिक बनी रहेगी।

एजेंसी ने कहा है कि वर्ष 2017 और 2018 में भारत की आर्थिक वृद्धि उसकी अप्रैल 2017 की भविष्यवाणी के अनुरूप बेहतर रहेगी। IMF की इस रिपोर्ट के मुताबिक विकसित देशों की अर्थव्यवस्थाओं में मुद्रास्फीति निम्न स्तर पर बनी रहेगी।
रिपोर्ट में कहा गया है कि नोटबंदी के बाद भी वृद्धि दर 7.1 प्रतिशत थी, जो अनुमान से अधिक थी। एजेंसी के मुताबिक 2017 में अडवांस्ड और उभरती हुई अर्थव्यवस्थाओं की वृद्धि दर 2 प्रतिशत और 4.6 प्रतिशत की दर से बढ़ेगी। साथ ही ग्लोबल ग्रोथ 3.5 प्रतिशत की दर से ही बढ़ेगी।


हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए Pileekhabar के Facebook पेज को लाइक करें

loading…


Loading…



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *