राम जन्मभूमि मंदिर के भूमि पूजन में नहीं दिखेंगे आन्दोलन की नींव के पत्थर, कांग्रेस ने मारी पलटी

 363 


भव्य राम मंदिर के भूमि पूजन हेतु अयोध्या सज धजकर तैयार है पर मंदिर आंदोलन की नींव रखनेवाले महानुभाव इस महान अवसर पर नहीं दिखेंगे. दूसरी ओर जो कांग्रेस कल तक इसका विरोध कर रही थी उसके नेताओं ने भी आज मंदिर के समर्थन में बयान जारी किए हैं.
ऐतिहासिक भूमि पूजन कार्यक्रम के लिये अयोध्या की सजावट किसी दुल्हन के समान की गयी है. अयोध्या शहर और उस तक पहुंचने वाली तमाम सड़कें प्रस्तावित मंदिर और राम लला के पोस्टरों, बैनरों और होर्डिंग से भरी पड़ी हैं. केशरिया और लाल महावीरी झंडे चप्पे- चप्पे पर लगे हैं. पुरे प्रक्षेत्र में भगवान राम के भजनों की आवाज गूंज रही है.तमाम मंदिर एवं भवन में नये रंग-रोगन हुए हैं. सभी मकान व दुकान गहरे पीले रंग से रंगे गये हैं. पूरी अयोध्या साफ- सुथरी चमक रही है. सभी मार्गों पर पानी का छि़ड़काव किया गया है.
कोविड-19 के नियमों का पूरी सख्ती से पालन हो रहा है. बाहरी व्यक्ति के अयोध्या प्रवेश की अनुमति नहीं है. कांहीं भी एक जगह पांच व्यक्तियों को एकत्र नही होने दिया जा रहा है. अयोध्या पहुँचने वाले वाहनों की चार स्थानों पर सख्त जांच हो रही है. तमाम वाहनों के पुरे ब्यौरों के साथ ही सवारी के मोबाइल नंबर नोट हो रहे हैं. अयोध्या में वही प्रवेश कर पा रहे हैं जिन्हें आधिकारिक स्वीकृति प्राप्त है. जगह-जगह लोहे और लकड़ी की बल्लियों से मार्ग अवरोधक लगे है. अयोध्या में रहने वाले लोगों के भी औचक जांच हो रहे हैं.
दुनिया भर के राम भक्तों के लिए 5 अगस्त का दिन जहाँ एक ओर खुशियों की सौगात लेकर आया है वहीं दूसरी ओर मंदिर आन्दोलन की नींव रखने वाले कई चेहरे भाजपा नेता लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, कल्याण सिंह आदि वहां नहीं दिखेंगे. मंदिर निर्माण आंदोलन के लिए भाजपा के तत्कालीन अध्यक्ष आडवाणी ने 1990 में गुजरात के सोमनाथ से अयोध्या तक रथ यात्रा शुरू की थी, जिन्हें बिहार के तत्कालीन मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव ने समस्तीपुर जिले में गिरफ्तार करवा लिया था. उमा भारती ने भूमि पूजन को लेकर ट्वीट कर कहा है कि मैंने रामजन्मभूमि न्यास के अधिकारियों को सूचना दी है कि शिलान्यास के कार्यक्रम के मुहूर्त पर मैं अयोध्या में सरयू के किनारे पर रहूंगी और सभी के चले जाने के बाद मैं रामलला के दर्शन करने जाऊंगी. ट्रायल कोर्ट में आडवाणी और जोशी ने बाबरी मस्जिद विध्वंस मामले में अपनी संलिप्तता से इनकार करते हुए कहा है कि वह इस मामले में ऐसा सबूत देंगे जिससे वे बेगुनाह साबित हो जाएंगे. सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले पर 31 अगस्त तक ट्रायल कोर्ट को फैसला सुनाने को कहा है, जहाँ 32 आरोपियों में से 31 के बयान दर्ज हो चुके हैं.
श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय के अनुसार पांच अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा भूमि कार्यक्रम के लिए लगभग 175 लोगों को आमंत्रित किया गया है. चंपत राय ने इस संदर्भ में कहा कि साधन, उम्र, कोरोना और चातुर्मास आदि का ध्यान रखते हुए आमंत्रितों की सूची काफी सोच समझ कर बनाई गई है. जिन्हें नहीं बुलाया जा सका, उनसे व्यक्तिगत तौर पर माफी मांगी है. सभी से टेलीफोन पर सीधे बात हुई है. 36 आध्यात्मिक परंपराओं के 135 संत-महात्मा मिलाकर कुल 175 लोगों को निमंत्रण भेजा गया है. नेपाल के संत भी आएंगे, इकबाल अंसारी और पद्मश्री मोहम्मद शरीफ को भी निमंत्रण दिया गया है.

आडवाणीजी ने कहा… ‘‘जीवन के कुछ सपने पूरा होने में बहुत समय लेते हैं, लेकिन जब वे चरितार्थ होते हैं तो लगता है कि प्रतीक्षा सार्थक हुई. ऐसा ही एक सपना, जो मेरे हृदय के समीप है, अब पूरा हो रहा है. अयोध्या में श्रीराम जन्मभूमि पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा श्रीराम मंदिर का भूमिपूजन हो रहा है. निश्चय ही, केवल मेरे लिए ही नहीं, बल्कि समस्त भारत समुदाय के लिए यह क्षण ऐतिहासिक और भावपूर्ण है. श्रीराम का स्थान भारतीय सभ्यता और संस्कृति में सबसे ऊपर है. वे शिष्टाचार और मर्यादा के मूर्त रूप हैं. यह मंदिर हम सब भारतीयों को श्रीराम के इन गुणों को आत्मसात करने की प्रेरणा देगा. राम मंदिर शांतिपूर्ण भारत का प्रतिनिधित्व करेगा और सबके लिए न्याय होगा. कोई भी बहिष्कृत नहीं होगा. श्रीराम का आशीर्वाद सबको मिले, जय श्रीराम.
उद्धव ठाकरे शामिल नहीं होंगे…. शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा कि महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे भूमि पूजन समारोह में शामिल नहीं होंगे. उन्होंने कहा कि यह महत्वपूर्ण है कि प्रधानमंत्री जा रहे हैं. उद्धव कभी भी वहां जा सकते हैं. मंदिर निर्माण के लिए शिवसेना ने एक करोड़ रुपये दान दिए हैं. मंदिर के पुजारी और कई सुरक्षा गार्डों को क्वारंटीन किया गया है, ऐसे में वहां कम से कम लोगों को पहुंचना चाहिए.
प्रियंका वाड्रा का ट्वीट….. राम मंदिर के लिए भूमि पूजन की चंद घंटे पूर्व कांग्रेस की महासचिव प्रियंका वाड्रा ने 21 लाइनों के 270 शब्द वाले ट्वीट में 23 बार राम शब्द लिखते हुए ट्वीट किया कि- ‘राम सब में हैं, राम सबके हैं. राम कबीर के हैं, तुलसीदास के हैं और रैदास के हैं. गांधी के रघुपति राघव राजा राम सबको सन्मति देने वाले हैं.
कमलनाथ भेज रहे चांदी की ईंटे….. मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने ऐलान किया कि वो 11 चांदी की ईंटें अयोध्या भेजेंगे. वो ऐतिहासिक दिन है, जिसका पूरा देश इंतजार कर रहा था. त्रिपुंड तिलक लगा, भगवा पटका ओढ़े प्रोफाइल फोटो के साथ ट्विटर पर कहा कि- ‘हम राम मंदिर निर्माण का स्वागत करते हैं. राजीवजी ने 1985 में इसकी शुरुआत की, 1989 में शिलान्यास किया. राजीवजी के कारण ही राम मंदिर का सपना आज साकार हो रहा है. आज राजीवजी होते तो यह सब देखते. भारत की संस्कृति सभी को जोड़ने वाली है. यह हमारी पहचान है. हम जब भी कुछ करते है, भाजपा के पेट में दर्द क्यों शुरू हो जाता है. क्या धर्म पर उनका पेटेंट है, उनका ठेका है, उन्होंने धर्म की एजेंसी ली हुई है?
रणदीप सुरजेवाला को याद आयी राम की मर्यादा…. कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि- ‘मैं राम मंदिर निर्माण के कार्यक्रम के 24 घंटे पहले कोई राजनीतिक बयान देना नहीं चाहता, लेकिन यह कहना चाहता हूँ कि राजनीति का धर्म होना चाहिए, धर्म की राजनीति नहीं. यही राम की मर्यादा है.
रामायण के रिकॉर्ड 7.7 करोड़ दर्शक ….. 78 एपिसोड वाले रामायण सीरियल 1987-88 में दुनिया में सबसे ज्यादा देखा जाने वाला शो रहा था. 2003 तक इस शो का नाम लिम्का बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स में द मोस्ट वॉच्ड माइथोलॉजिकल सीरियल इन द वर्ल्ड में शामिल रहा है. 22 मार्च से देश में जारी लॉकडाउन के बीच जनता की विशेष मांग पर 33 साल बाद 28 मार्च से डीडी नेशनल पर पुन: प्रसारित किए गये शो ने 16 अप्रैल को एक नया वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया, जब इसे 7.7 करोड़ रिकॉर्ड दर्शकों ने देखा.
रामायण सीरियल के राम और सीता….. सीरियल में प्रभु राम का चरित्र निभाने वाले अरुण गोविल ने ट्वीट् किया कि- ‘भूमि पूजन की प्रतीक्षा समस्त मानव जाति कर रही है. इसके साथ ही एक दिव्य युग का शुभारंभ हो जाएगा. सभी रामभक्तों को मेरा कोटि कोटि नमन. आप सबके महान प्रयासों से ही हमें ये दिन देखने का‌ सौभाग्य मिल रहा है. जय श्रीराम.’
माता सीता का चरित्र निभाने वाली दीपिका चिखलिया ने अपनी खुशी इंस्टाग्राम पर जाहिर करते हुए लिखा- ‘आखिरकार लंबा इंतजार खत्म हुआ. रामलला घर वापस आ रहे हैं. यह एकदम अद्भुत अनुभव होने वाला है. ऐसा लग रहा है कि इस साल दिवाली जल्दी आ गयी है. यह सब सोचकर ही भावुक हो रही हूँ.’



loading…


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *