बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष राहुल गाँधी के खिलाफ भारतीय दंड विधान की धारा 500 के अंतर्गत मानहानि का एक अपराधिक मुकदमा गुरुवार को पटना के मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी के न्यायालय में दर्ज कराया है।
राहुल गाँधी ने 13 अप्रैल को बैंगलोर से कुछ दूरी पर स्थित कोलार में अपनी एक चुनावी रैली में में मोदी टाइटल वाले प्रत्येक व्यक्ति को चोर बताया था । उन्होंने इस बात को कई बार दोहराया एवं उनका यह भाषण अनेक टीवी चैनेल पर लाइव दिखाया गया। यह अखबारों में भी प्रमुखता से छपा एवं इसे पटना में अनेको लोगो ने टीवी पर देखा एवं अखबारों में पढ़ा।
मोदी ने कोर्ट में दाखिल अपनी अर्जी में राहुल गाँधी पर यह आरोप लगाया है की उनके इस तरह के भाषण से जितने भी मोदी टाइटल वाले व्यक्ति है उनको चोर बताया गया है जिससे समाज में उनकी छवि धूमिल हुई है एवं यह एक अपराधिक कृत्य है जिसकी सजा श्री राहुल गाँधी को अवश्य न्यायालय द्वारा मिलनी चाहिए।
इस मुकदमे में उनके गवाह संजीव चैरसिया, नितिन नविन, मनीष कुमार है। उन्होंने कोर्ट से यह दरखास्त की है कि इस मामले में राहुल गाँधी के खिलाफ संज्ञान लेकर उन्हें न्यायालय द्वारा तलब किया जाये एवं उनके खिलाफ मानहानि का अपराधिक मुकदमा चला कर सजा दी जाये। इस मुकदमे में दो बर्ष की सजा का प्रावधान है।
इसके अलावे राहुल गाँधी के खिलाफ दिल्ली के पटियाला हाउस कोर्ट में भी जोगिंद तूली नामक शख्स ने भारतीय दंड संहिता के 124A के तहत एक आपराधिक मुकदमा पीएम मोदी पर दिए गए आपत्तिजनक बयान को लेकर दायर किया है.


loading…

Loading…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *