SP-BSP का गठबंधन 2019 में BJP के लिए चुनौती होगा, पर जीत भाजपा की होगी: अमित शाह

 78 

बीजेपी के खिलाफ महामोर्चा बनाने में जुटी विपक्षी पार्टियों की कोशिश के बीच बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने शुक्रवार को स्वीकार किया कि बहुजन समाज पार्टी और समाजवादी पार्टी का गठबंधन 2019 में बीजेपी के लिए चुनौती होगा लेकिन साथ ही विश्वास जताया कि बीजेपी कांग्रेस को अमेठी या रायबरेली में शिकस्त देगी. मोदी सरकार के चार वर्ष पूरे करने के अवसर पर आयोजित प्रेस कॉन्फेंस में उन्होंने कहा, “यदि बीएसपी और एसपी गठबंधन चुनाव में उतरेगा तो यह हमारे लिए चुनौती होगा. लेकिन हमें विश्वास है कि हम अमेठी या रायबरेली में से कोई एक सीट जीतेंगे.”
उन्होंने स्पष्ट किया कि बीजेपी अपने पुराने साथी शिवसेना से महाराष्ट्र में गठबंधन नहीं तोड़ना चाहती लेकिन जोर दिया कि अगर शिवसेना अलग होना चाहती है तो बीजेपी के पास कोई विकल्प नहीं होगा.” उन्होंने कहा, “2019 में बीजेपी महाराष्ट्र में शिवसेना के साथ लड़ेगी. हम नहीं चाहते कि वह एनडीए का साथ छोड़े. लेकिन अगर वे जाना चाहते हैं तो यह उनकी इच्छा है. हम हर स्थिति के लिए तैयार हैं.” शाह ने कहा कि विपक्षी पार्टियां एकजुट होकर भी 2019 में बीजेपी को नहीं हरा पाएंगी. उन्होंने कहा, “वे 2014 में हमारे खिलाफ लड़े थे लेकिन हमें रोक नहीं पाए. वे एक साथ भी आ जाएं तो हमें नहीं हरा पाएंगे.” बीजेपी अध्यक्ष ने कहा कि बीजेपी 2019 में उन 80 सीटों पर जीतेगी जहां पिछले चुनाव में उसे हार का सामना करना पड़ा था. उन्होंने यह भी कहा कि राजस्थान, छत्तीसगढ़ और मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री नहीं बदले जाएंगे. राजस्थान बीजेपी अध्यक्ष के नाम के ऐलान के संबंध में उन्होंने कहा कि उसकी घोषणा 26 मई को होगी.
भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि मोदी सरकार ने समाज के हर तबके के लिए काम किया है और कोई भी इस पर किसान या उद्योगपति विरोधी होने का आरोप नहीं लगा सकता है. शाह ने कहा, “यह किसानों के साथ-साथ उद्योगपतियों की सरकार है. इसने उस बहस को खत्म कर दिया है कि कैसे एक सरकार किसानों व उद्योगों दोनों के विकास के लिए काम कर सकती है.”
अमित शाह 26 मई को मोदी सरकार के चार साल पूरे होने पर पत्रकारों के साथ बातचीत कर रहे थे. उन्होंने कहा कि भाजपा की अगुवाई वाली सरकार ने देश में लोकतांत्रिक व्यवस्था को मजबूत किया है. उन्होंने कहा, “देश में 2014 में लोगों ने सोचना शुरू किया कि बहुदलीय लोकतंत्र व्यवस्था यहां विफल है. लेकिन भाजपा ने इसे गलत साबित किया है, क्योंकि उसने सरकार को ठीक से चलाया और बहुदलीय प्रणाली में उनके विश्वास को बनाए रखा.” उन्होंने कहा, “बीते चार सालों में सरकार ने देश की छवि को वैश्विक रूप से बदला है.”

loading…


Loading…


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *