SAMSUNG के साथ मिलकर Jio ला रहा यह सर्विस, बदल जाएगी आपकी दुनिया

 68 

दूर संचार क्षेत्र की सबसे बड़ी कंपनी रिलायंस जियो (Reliance Jio) उपभोक्ताओं को नई खुशखबरी देने की तैयारी कर रही है. जियो का लक्ष्य इस साल दीपावली तक देश के 99 प्रतिशत उपभोक्ताओं को सेवा मुहैया कराने की क्षमता हासिल करने की है. कंपनी के अधिकारी की तरफ से यह जानकारी दी गई. कंपनी ने विस्तार योजना के तहत सैमसंग के साथ मिलकर ‘इंटरनेट-ऑफ-थिंग्स’ (IoT) सेवाएं शुरू करने की घोषणा की. कंपनी के इस योजना को शुरू करने से उपभोक्ताओं एवं उद्यमों को फायदा मिलेगा.
रिलायंस जियो इंफोकॉम के अध्यक्ष ज्योतिंद्र ठाकेर ने कहा, ‘हम प्रति माह आठ से 10 हजार टावर लगा रहे हैं.’ उन्होंने कहा कि सितंबर या अक्टूबर तक कंपनी 99 प्रतिशत आबादी को सेवा उपलब्ध कराने में सक्षम हो जाएगी. अभी कंपनी के पास भुगतान करने वाले 16 करोड़ उपभोक्ता हैं. जियो के वरिष्ठ उपाध्यक्ष (प्रौद्योगिकी) तारीक अमीन ने कहा, हमने पिछले साल 170 दिन में 10 करोड़ उपभोक्ता जोड़ने की बात की जो कि अप्रत्याशित था.
तारीक अमीन ने कहा कि लोगों ने नि:शुल्क उपभोक्ताओं को भुगतान करने वाले उपभोक्ताओं में बदलने की हमारी क्षमता पर शक किया. हमने न केवल यह कर दिखाया बल्कि इतिहास में इस तरह का सबसे बड़ा काम किया. हमारे पास परिचालन शुरू होने के 16 महीने के भीतर 16 करोड़ उपभोक्ता हैं. आईओटी की शुरुआत में लगने वाले समय के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि इसके लिए कंपनी को पूरी पारिस्थितिकी तैयार करने की जरूरत है.
अमीन ने कहा, एक-एक शहर में ऐसा करने के बजाय हम इसे पूरे देश में शुरू करना चाहते हैं. हम नेटवर्क के तैयार होने का इंतजार नहीं कर रहे हैं बल्कि हम आईओटी मंच के परिपक्व होने का इंतजार कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि जियो का नेटवर्क 2जी को भी पीछे छोड़ देगा. हम हर गांव और हर व्यक्ति को जोड़ना चाहते हैं. जियो के नेटवर्क के 4G से 5G में स्विच करने के बारे में पूछे जाने पर अमीन ने कहा कि यह सॉफ्टवेयर अपग्रेड कर किया जा सकता है. उन्होंने कहा कि यह भविष्य के हिसाब से तैयार किया गया नेटवर्क है.
दूसरी तरफ रिलायंस जियो और दूरसंचार एसोसिएशन सेल्युलर ऑपरेटर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया (COAI) के बीच जंग और तेज हो गई है. जियो ने कहा कि सीओएआई के हालिया बयान हमारे लिये है. जियो सीओएआई की सदस्य है. सीओएआई को इस हफ्ते लिखे दूसरे कड़े शब्दों वाले पत्र में जियो ने कहा, ‘आरजेआईएल उस दावे का दृढ़तापूर्वक खंडन करता है जिसमें कहा गया था कि प्रेस बयान किसी एक ऑपरेटर के खिलाफ नहीं था.’
आपको बता दें कि सीओएआई के महानिदेशक राजन मैथ्यू ने जियो से माफी मांगने से इनकार कर दिया था. मैथ्यू ने कहा था कि ‘जियो से माफी मांगने का कोई सवाल ही नहीं है क्योंकि ऐसा करने का कोई कारण नहीं है. उन्होंने कहा सीओएआई के मतभेद ट्राई के आदेश से हैं, न कि किसी विशिष्ट ऑपरेटर से.’
इंटरनेट ऑफ थिंग्स नेटवर्किंग को कहा जाता है. इस में आपके प्रयोग के सभी गैजेट्स और इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस एक-दूसरे से कनेक्ट होते हैं. इंटरनेट ऑफ थिंग्स में आपका एक डिवाइस आपके घर में मौजूद अन्य डिवाइस को कमांड देता है. इस तरह एक डिवाइस को इंटरनेट के साथ लिंक कर बाकी डिवाइस से आप अपने अनुसार कुछ भी काम करा सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *