PM मोदी के कारण अगले दो सालों में भारतीय वायुसेना की ताकत हो जाएगी कई गुना अधिक

 314 

आने वाले दो सालों में भारतीय वायुसेना की ताकत इस हद तक बढ़ने वाली है कि दुश्मन तो क्या कोई बड़ी शक्ति भी भारत पर हमला करने की नहीं सोच सकता। दरअसल, भाजपा की सरकार बनने के बाद पीएम मोदी ने जर्मनी के साथ लंबे समय से अटकी 36 राफेल फाइटर जेट की डील को पूरा किया।
इसके बाद भारत ने रूस के साथ मिसाइल भेदी प्रणाली S-400 को भी पूरा कर लिया है। पीएम मोदी की ताजा अमेरिका यात्रा के दौरान भारत को F-16 फाइटर जेट और MQ-9B गार्डियन ड्रोन देने के फैसले पर आधिकारिक मुहर लग जाएगी। इससे पहले अमेरिका भारत को चिनूक और दुनिया का सबसे विध्वंसक हेलीकॉप्टर अपाचे भी दे चुका है। वहीं भारत और रूस मिलकर अब पांचवी पीढ़ी का सबसे आधुनिक फाइटर जेट भी बना रहे हैं, जिसे दुनिया का कोई भी रडार नहीं पकड़ पाएगा।
आधुनिक मिसाइल और हथियार तकनीक से लैस इन फाइटर जेट के बेड़े में शामिल होने से भारतीय वायुसेना की ताकत और मज़बूत होगी। आपको बता दें कि राफेल जेट यह दो इंजन वाला लड़ाकू विमान है, जो भारतीय वायुसेना की पहली पसंद है। अत्याधुनिक हथियारों से लैस राफेल, प्लेन के साथ मेटेअर मिसाइल भी है।
वहीं एफ-16 जेट्स एफ-16 दुनिया का पहला ऐसा फाइटर जेट है जिसमें बिना फ्रेम वाली बबल कैनोपी, यानी कॉकपिट की छत बनाई गई थी। इसकी वजह से पायलट दूसरी साइड पर 40 डिग्री तक नीचे की ओर देख सकता है। साथ ही वह अपनी नाक के 15 डिग्री नीचे तक भी आसानी से देख सकता है। फ्लाई बाई वायर कंट्रोल सिस्‍टम एफ-16 में इंस्‍टॉल फ्लाई बाई वायर कंट्रोल सिस्‍टम भी अपने तरीके का पहला सिस्‍टम है।
इसकी वजह से पायलट हाई रेंज में आसानी से किसी भी दिशा में मुंड सकता है। साथ ही जिस दिशा में पायलट जाना चाहे, उसे डायरेक्‍शन मिलते रहते हैं। बिना स्‍टैंड के 80% जेट खुल जाता है एफ-16 को प्रयोग करना बहुत आसाना है। इस जेट के 80% एक्‍सेस पैनल को बिना सीढ़ी या फिर स्‍टैंड का प्रयोग किए हुए खोला जा सकता है। ऑटोमैटिक कंट्रोल वाले विंग्‍स इस जेट के विंग का एक चैंबर है जो कि फ्लाइ बाइ वायर सिस्‍टम से कंट्रोल होता है और इसकी वजह से ऊंचाई पर फ्लाइंग के समय इसकी गतिशीलता बढ़ जाती है।

यह भी पढ़ें : राजस्थान में शादी का अनोखा कार्ड, छपवाए मोदी मिशन के नारे

यह भी पढ़ें : नाग से मौत की लड़ाई लड़ा कुत्ता, वफादारी से बचा ली 7 जवानों की जिंदगियां

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए Pileekhabar के Facebook पेज को लाइक करें

loading…


Loading…



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *