घाटी के अलगाववादी नेता फारूक अहमद डार उर्फ ‘बिट्टा कराटे’, जावेद अहमद बाबा उर्फ ‘गाजी’ और नईम खान ने NIA के सामने पूछताछ में बड़ा खुलासा करते हुए कहा कि अलगाववादी नेता सैय्यद अली शाह गिलानी को पाकिस्तान से अलग-अलग चैनल से नियमित रूप से हवाला और क्रॉस बॉर्डर ट्रेड से पैसे मिलते रहे हैं.
हालांकि अब तक आधिकारिक तौर पर इन खुलासों के विषय में कोई बयान नहीं आ सका है। सूत्रों के मुताबिक जांच में अलगाववादी नेताओं द्वारा हिंसा के लिए कश्मीर में अरब देशों, बांग्लादेश, श्रीलंका और नेपाल के रास्ते हवाला के जरिए फंडिंग के खुलासे हुए हैं।

एक न्यूज़ चैनल के ‘ऑपरेशन हुर्रियत’ के बाद आतंकी फंडिंग को लेकर अलगाववादियों का असली चेहरा सामने आया और NIA ने अलगाववादियों पर अपना शिकंजा कसना शुरू किया है. दिल्ली स्थित NIA मुख्यालय पर पूछताछ के दौरान तीनों हुर्रियत नेताओं ने
खुद भी पैसे की बात कबूली और कहा कि हम तो इस खेल में सिर्फ मोहरे हैं असली वजीर तो कोई और है.
बताया जा रहा है कि अब NIA सैय्यद अली शाह गिलानी पर शिकंजा कसेगा. उम्मीद है कि सैय्यद अली शाह गिलानी से भी दिल्ली में पूछताछ की जाएगी. सूत्रों के मुताबिक NIA को अब तक कि जांच में कई पुख्ता सबूत मिले हैं. जिनके आधार पर NIA पाक फंडिंग के मामले में जल्द ही FIR भी दर्ज कर सकती है.
पाकिस्तान फंडिंग मामले से जुड़े NIA ने 150 FIR और 13 चार्जशीट को भी अपनी इस जांच में शामिल कर लिया है और उनकी स्टडी कर रही है. दो दिन लगातार पूछताछ के बाद NIA अलगाववादी नेता फारूक अहमद डार उर्फ ‘बिट्टा कराटे’, जावेद अहमद बाबा उर्फ ‘गाजी’ और नईम खान से कल तीसरे दिन भी पूछताछ जारी रखेगी.

ताज़ा अपडेट पाने के लिए हमारे पेज को लाइक करें

loading…

Loading…





Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *