दलित विकास अभियान समिति ने NEG FIRE के सहयोग से गया जिले के डोभी प्रखंड के बरमोरिया एवं निगरी संकुल के 21 विद्यालय एवं बारी, डोभी, आगरा, बजौरा, नीमा पंचायत के 30 आगनवाड़ी केन्द्रों में समावेशी शिक्षा उन्नयन कार्यक्रम की शुरुआत की गयी.
समिति के निदेशक धर्मेन्द्र कुमार ने बताया कि NEG FIRE के सहयोग से हमारा मुख्य उद्देश्य मुसहर एव महादलित परिवार के बच्चों की पहुंच समावेशी गुणवत्तापूर्ण शिक्षा उपलब्ध कराना है. इस परियोजना के तहत विद्यालय के पोषक क्षेत्र के विद्यालय से बाहर रहने वाले बच्चों को चिन्हित कर विद्यायल में उन्हें नामांकित कराना, विद्यालय से बच्चो की छीजन पर रोक लगाना, शिक्षा पद्धति का नई तकनीक से जुड़ाव सुनिश्चित करना, विद्यालय के अंदर बच्चो के लिए शैक्षणिक वातावरण का निर्माण करना, गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के लिए शिक्षकों और बच्चों की भागीदारी, विद्यालय शिक्षा समिति सहित महिला मंडल, बाल संसद और समुदाय को तकनीकी प्रशिक्षण प्रदान कर सशक्त बनाना और आदर्श विद्यालय की परिकल्पना का निर्माण कराया जायेगा.
बोधगया में 8 जुलाई से 11 जुलाई तक MIS प्रशिक्षण से कार्यकर्ताओं को लैस किया गया. इन कार्यकर्ता के साथ 10 जुलाई को बारी पंचायत के प्राथमिक विद्यालय धर्मपुर, महादलित टोला धर्मपुर, श्री टोला एवं आगनवाड़ी केन्द्र संख्या 11 में NEG FIRE के रिजीनल मैनेजर अमिताभ भूषण, MIS हेड रावला, पूनम वर्मा, प्रखंड साधन सेवी अक्षय कुमार, समिति के निदेशक धर्मेन्द्र कुमार आदि ने MIS का डेमो किया.
शिक्षा से वंचित बच्चो को समावेशी गुणवत्तापूर्ण शिक्षा उपलब्ध कराने के लिए रचनात्मक और विकासात्मक कार्यक्रम के तहत सरकार की महत्वाकांक्षी योजनाओं के साथ सभी वर्गों को भेदभाव रहित शिक्षा के लिए विद्यालय गतिविधियों में भागीदारी सुनिश्चित कर शिक्षा से वंचित लोगो को मुख्यधारा से जोड़ा जाना कार्यक्रम की प्राथमिकता रही. जिसके लिये चाइल्ड मैपिंग तैयार की जा रही है ताकि किसी बच्चे का विद्यालय से छीजन न हो और नही वो प्राइवेट स्कुल में पहुँचें.


loading…

Loading…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *