ECR के पूर्व प्रधान मुख्य वाणिज्य प्रबंधक विष्णु कुमार ने बतौर मुख्य अतिथि विष्णु कुमार ने कहा कि भगवान शिव अपने सभी भक्तों की जरूरतों का ख्याल रखते हैं और जो लोग सावन में उन पर जल चढ़ाते हैं उनके ऊपर तो विशेष कृपा रखते हैं.
बोल बम के नारों से गुंजित वातावरण में पहलेजा-गरीबनाथ धाम कांवरिया पथ पर स्थित कांवरिया शिविर में शिवजी से जुड़े भजनों और लोकगीतों का शानदार सांस्कृतिक कार्यक्रम खाद्य, उपभोक्ता मामले एवं सार्वजनिक वितरण मंत्रालय हुआ. कार्यक्रम का विधिवत उद्घाटन पूर्व मध्य रेल के पूर्व प्रधान मुख्य वाणिज्य प्रबंधक विष्णु कुमार, सांसद प्रतिनिधि अवधेश कुमार सिंह, अजय कुशवाहा आदि ने किया. इस अवसर पर सांसद प्रतिनिधि अवधेश कुमार सिंह ने बताया कि वैशाली से विशेष स्नेह रखने वाले मंत्री राम विलास पासवान के प्रयास से यह मंडप लगाया गया है.
भक्तिमय वातावरण में बिहार की प्रसिद्ध लोक गायिका नीतू कुमारी नवगीत ने अपनी सुमधुर आवाज में एक के बाद एक कई बेहतरीन प्रस्तुतियां देकर कांवरिया भक्तों का मन मोहा. कार्यक्रम के प्रारंभ में उन्होंने गणेश भगवान की आराधना करते हुए ‘मंगल के दाता भगवन बिगड़ी बनाई जी गौरी के ललना हमरा अंगना में आई जी’ गीत प्रस्तुत किया. इसके बाद देवों के देव महादेव की महिमा का बखान करते हुए उन्होंने कई गीत गाए.
सावन के महीने में बाबा गरीबनाथ धाम चलने के लिए सब को प्रेरित करते हुए उन्होंने ‘भक्ति जगाकर के मन में ओढ़ ला केसरिया चला हो सखिया, शिव बाबा के नगरिया चला हो सखिया’, ‘भोला के देखेला बेकल भइले जियरा, का ले के शिव के मनाई हो शिव मानत नाहीं, भांग धतूरा कहां पाई हो शिव मानत नाहीं’, ‘डिम डिम डमरू बजावे ला हमार जोगिया’, ‘बाबा बैजनाथ हम आयल छी भिखरिया आहाँ के दुअरिया ना’ जैसे गीतों की प्रस्तुति करके शिव भक्तों का मन मोह लिया.
उनके द्वारा प्रस्तुत शिव विवाह गीत “अपने महादेव डमरू बजावे ला भूत पिशाच सब नाच करेला” को खूब वाह- वाही मिली. उन्होंने गंगा मइया को समर्पित गीत ‘मांगी ला हम वरदान हे गंगा मैया मांगी ला हम वरदान’, ‘गंगोत्री से निकलल गंगा मैया, जग के करेला उद्धार’ के साथ ही देवी गीत ‘जय जय भैरवी’ भी प्रस्तुत किया, जिस पर भक्तजन झूमते दिखे.
सांस्कृतिक कार्यक्रम के दौरान बड़ी संख्या में भक्तजन मौजूद रहे और भक्ति गीतों पर झूमते रहे. कार्यक्रम का संचालन आशुतोष कुमार दीपू ने किया जबकि कैसियो पर राजन, नाल पर भोला, हारमोनियम पर राकेश और पैड पर सोनल कुमार ने संगत किया.

इसके पूर्व 31 जुलाई को सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के लोकसंपर्क एवं संचार ब्यूरो, पटना द्वारा नालंदा जिले के गिरियक प्रखंड के मध्य विद्यालय घोटा-कटोरा में आयोजित जल शक्ति अभियान के तहत जागरूकता अभियान में बिहार की प्रसिद्ध लोक गायिका डॉ नीतू कुमारी नवगीत ने अनेक पारंपरिक गीतों के माध्यम से लोगों को जल बचाने तथा पेड़ लगाने के लिए प्रेरित किया. इस अवसर पर राज्य के ग्रामीण विकास मंत्री श्रवण कुमार, स्थानीय विधायक रवि कुमार ज्योति, आरओबी के सहायक निदेशक एन. एन. झा आदि ने कहा कि जल संचय आज मानव जीवन के लिए महत्वपूर्ण हो गया है. अगर अभी भी हम जल को बचाने पर ध्यान नहीं देंगे तो भविष्य में जल संकट काफी गहरा हो जाएगा, जिसकी आज हम कल्पना भी नहीं कर सकते.
जल शक्ति अभियान के दो दिवसीय कार्यक्रम में वृक्षारोपन, वृक्ष वितरण, चित्र प्रदर्शनी, जागरूकता रैली, प्रश्नोत्तरी एवं चित्रांकन प्रतियोगिता के साथ-साथ सांस्कृतिक कार्यक्रमों का भी आयोजन किया गया. सांस्कृतिक कार्यक्रम में बिहार की प्रसिद्ध लोक गायिका डॉ नीतू कुमारी नवगीत ने अनेक पारंपरिक गीतों के माध्यम से लोगों को जल बचाने तथा पेड़ लगाने के लिए प्रेरित किया.
इस अवसर पर जल शक्ति अभियान के स्थानीय ब्रांड एंबेस्डर आशुतोष कुमार मानव, वर्ल्ड मिशन इंडिया के क्षेत्रीय प्रबंधक धीरन नायक, गिरियक के प्रखंड विकास पदाधिकारी धर्मवीर कुमार, अंचल अधिकारी चंद्रशेखर कुमार सहित भारी संख्या में ग्रामीण और स्कूली बच्चे उपस्थित थे. यहाँ प्रश्नोत्तनी और चित्रांकन प्रतियोगिता में सफल प्रतिभागियों को पुरस्कृत भी किया गया.
30 जुलाई को सुल्तानगंज-देवघर कांवरिया पथ में कांवरिया भक्तों के विश्राम हेतु भागलपुर जिला प्रशासन और पर्यटन विभाग के सेवा शिविर में भक्ति गीतों और भजनों का शानदार कार्यक्रम आयोजित हुआ. यहाँ भी बिहार की प्रसिद्ध लोक गायिका नीतू कुमारी नवगीत ने अपनी सुमधुर आवाज में एक के बाद एक कई बेहतरीन प्रस्तुतियां देकर कांवरिया भक्तों का मन मोह लिया. कार्यक्रम के प्रारंभ में उन्होंने गणेश वंदना में ‘मंगल के दाता भगवन बिगड़ी बनाई जी गौरी के ललना हमरा अंगना में आई जी’, देवों के देव महादेव की महिमा का बखान करने के साथ ही सावन में शिव धाम चलने के लिए सब को प्रेरित करते हुए दर्जनों गीतों की प्रस्तुति करके शिव भक्तों का मन मोह लिया.
नीतू कुमारी नवगीत द्वारा प्रस्तुत शिव विवाह गीत पर पूरा सेवा शिविर झूम उठा. उन्होंने गंगा गीत और देवी गीत भी प्रस्तुत किया, जिस पर समस्त कांवरिया लगातार झूमते रहे. इस दौरान कैसियो पर सुजीत, नाल पर भोला और पैड पर सोनल कुमार ने संगत किया.



loading…

Loading…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *