जदयू नेता एवं हिन्द मजदूर सभा के प्रांतीय अध्यक्ष पूर्वमंत्री नरेंद्र सिंह झारखंड चुनाव में झारखंड मुक्ति मोर्चा प्रत्याशियों के प्रचार में एक दिसम्बर को पहुंच रहे हैं. श्री सिंह 2 से 5 दिसम्बर तक अपने पुराने साथी सरयू राय के लिए प्रचार करेंगे और उसके बाद झामुमो प्रत्याशियों के समर्थन में प्रदेश का दौरा करेंगे.
इस सन्दर्भ में उनसे जब पूछा गया कि आप जदयू में रहते हुए वहाँ दलीय प्रत्याशियों के स्थान पर झामुमो के लिए प्रचार करने क्यों जा रहे हैं तो उन्होंने सीधे- सीधे कहा कि मैं हरदम सम्बन्धों एवं समर्पण की राजनीती करता हूँ. सरयू राय जी जेपी आन्दोलन के समय से हमारे मित्र हैं. अभी उन्हें मेरे सहयोग की आवश्यकता है तो मैं पीछे नहीं हट सकता. उसी प्रकार झामुमो नेतृत्व से हमारे बहुत पुराने व्यक्तिगत सम्बन्ध हैं, उनके लिए मुझे जाना ही होगा.
ज्ञात है कि नरेंद्र सिंह एक कद्दावर नेता के रूप में जाने जाते हैं. इन्होंने 2005 में NDA सरकार बनवाने में अहम भूमिका निभाई थी. बिहार विधानसभा के लिए अपने दो- दो बेटों के साथ चुने जाते रहे हैं. कृषिमंत्री के रूप में इन्होंने बिहार में कई दूरगामी प्रभाव डालने वाली योजनाओं को प्रारम्भ किया था. दलीय प्रतिबद्धता के विरुद्ध झारखंड में चुनाव प्रचार करने जाने के बाद जदयू में इसकी क्या प्रतिक्रिया होती है देखने वाली बात होगी.


loading…

Loading…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *