बिहार राज्य औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान कर्मचारी संघ की कोर कमिटी की बैठक में शनिवार को निर्णय लिया गया कि 6 मार्च को विभागीय निदेशक का पुतला दहन किया जायेगा और आठ मार्च को शाम छह बजे तक मांगों की पूर्ति नहीं होने पर विभागीय मंत्री का पुतला दहन होगा.
बैठक में छह दिनों के कलमबंद हड़ताल की समीक्षा की गई और इसमें बढ़ चढ़कर भाग लेने के लिए राज्य के सभी ITI कर्मचारियों को धन्यवाद दिया गया. निलम्बन व स्पष्टीकरण वापस लेने तथा अन्य मांगों की पूर्ति तक कलमबंद हड़ताल समाप्त नहीं करने का अल्टीमेटम देने का निर्णय लेते हुए मांगों की पूर्ति होने तक कलमबंद हड़ताल पर डटे रहने का आह्वान किया गया.
बैठक में निदेशालय में बैठे प्राचार्य स्तर के पदाधिकारियों के मनमानी एवं कर्मचारी विरोधी नीतियों की निंदा की गयी एवं अनुदेशकों को ग्रेड पे 4600/- देने में अड़ंगा डालने वाले पदाधिकारियों को चेतावनी देते हुए कहा गया कि नियम विरुद्ध कार्रवाई नहीं करें अन्यथा उनके विरुद्ध भी आंदोलन होगा.
संघ के महासचिव प्रेमचंद कुमार सिन्हा के अनुसार पांच मार्च को सभी ITI में कर्मचारियों की बैठक होगी और छः मार्च को मांगों की पूर्ति नहीं होने पर शाम छह बजे सभी ITI में अथवा जिला मुख्यालय में निदेशक नियोजन एवं प्रशिक्षण का पुतला दहन किया जाएगा. उन्होंने कहा कि आठ मार्च तक मांगों की पूर्ति नहीं होने पर शाम छह बजे राज्य के श्रम संसाधन मंत्री का पुतला दहन होगा और अगली रणनीति बनाने के लिए दस मार्च को राज्य स्तरीय बैठक पटना में होगी.


loading…

Loading…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *