रक्षा सौदा भ्रष्टाचार में 4 साल की सजा पर HC की रोक

 231 


समता पार्टी की पूर्व अध्यक्ष जया जेटली को रक्षा सौदे से जुड़े भ्रष्टाचार के एक मामले में 4 साल की सजा मिलने के ढाई घंटे बाद ही दिल्ली हाईकोर्ट ने रोक लगा दी. ज्ञात है कि ठीक इसी प्रकार 2015 में सिने अभिनेता सलमान खान को मिली सजा पर हाईकोर्ट ने चंद घंटों में रोक लगाई थी.
रक्षा सौदे में बीस साल पुराने भ्रष्टाचार के एक मामले में कोर्ट ने समता पार्टी की पूर्व अध्यक्ष जया जेटली, तत्कालीन मेजर जनरल एसपी मुरगई एवं गोपाल पचेरवाल को चार साल कारावास और एक-एक लाख रुपये जुर्माना अदा करने की सजा सुनाई. इन कैमरा प्रोसिडिंग में कोर्ट ने दोषियों को शाम पांच बजे तक आत्मसर्मपण करने का आदेश दिया. परन्तु उसके पहले ही तीनों दोषियों द्वारा इसके खिलाफ दिल्ली हाई कोर्ट में चुनौती याचिका दायर कर दी जहाँ से सजा पर रोक लगाने के साथ ही सीबीआइ से जवाब माँगा गया है.
सीबीआई के विशेष न्यायाधीश वीरेन्द्र भट ने बुधवार को जया जेटली समेत तीनों आरोपियों को हैंड हेल्ड थर्मल इमेजर्स खरीद में भ्रष्टाचार और आपराधिक षडयंत्र का दोषी करार देते हुए गुरुवार के लिए अपना फैसला सुरक्षित रखा था. सीबीआई ने लगभग 20 साल पुराने रक्षा सौदे में कथित भ्रष्टाचार के मामले में तीनों दोषियों को सात साल जेल की सजा मांगी थी जबकि दोषियों के वकील ने कोर्ट से कहा था कि उनके मुवक्किलों की ज्यादा उम्र को देखते हुए उन्हें कम से कम सजा दी जाए.
विशेष न्यायाधीश ने दोषियों को सजा सुनाते हुए कहा कि इन्होंने देश की संपूर्ण रक्षा प्रणाली से समझौता किया, इनके प्रति कोई सहिष्णुता नहीं होनी चाहिए. क्योंकि इसका सीधा असर देश की स्वतंत्रता और संप्रभुता पर होगा. संसाधन पूर्ण ओहदेदार दोषियों ने तुच्छ लाभ के लिए एक अज्ञात काल्पनिक कंपनी के उत्पादों को भारतीय सेना के लिए लेना चाहा. यह अपराध अज्ञानता में नहीं वरन एक सोची समझी साजिश के तहत एक-दूसरे से विचार विमर्श के बाद किया गया. यह अपराध देश पर हमले से कम नहीं है. दोषियों पर कोई दया नहीं हो सकती, क्योंकि यह न्याय का मजाक उड़ाना होगा.
इस मामले का खुलासा एक न्यूज पोर्टल ने रक्षा खरीद में भ्रष्टाचार को दिखाने के लिए “ऑपरेशन वेस्ट एंड” नाम के स्टिंग ऑपरेशन में किया था. रक्षा मंत्रालय से जुड़े अधिकारियों और नेताओं पर स्टिंग करने के बाद मार्च 2001 में पोर्टल ने इसे कई किस्तों में प्रसारित किया था. सीबीआइ ने 2006 में आरोपपत्र दायर किया कि इनलोगों ने आपराधिक साजिश रची और दो लाख रुपये की रिश्वत एक काल्पनिक फर्म मेसर्स वेस्टेंड इंटरनेशनल लंदन के प्रतिनिधि मैथ्यू सैमुअल से ली. वास्तव में मैथ्यू सैमुअल स्टिंग करने वाले न्यूज पोर्टल के प्रतिनिधि थे. भ्रष्टाचार का आरोप लगने के बाद तत्कालीन रक्षा मंत्री जॉर्ज फर्नांडिस की करीबी सहयोगी जया जेटली ने समता पार्टी के अध्यक्ष पद से इस्तीफा दिया था.



loading…


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *