गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर 7 हस्तियों को पद्म विभूषण, 16 को पद्म भूषण और 118 को पद्मश्री सम्मान के लिए चुना गया.
घोषणा के अनुसार जार्ज फर्नाडीज (मरणोपरांत), अरुण जेटली (मरणोपरांत), सुषमा स्वराज (मरणोपरांत), श्री विश्वेशतीर्थ स्वामी जी, उडुपी (मरणोपरांत), मॉरीशस के पूर्व प्रधानमंत्री अनिरुद्ध जगन्नाथ, मेरी काम और छन्नू लाल मिश्रा पद्म विभूषण सम्मान से सम्मानित किये गये हैं.
गोवा के पूर्व मुख्यमंत्री एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री मनोहर पर्रीकर (मरणोपरांत), मुअज्जम अली (मरणोपरांत), नीलकंठ रामकृष्ण माधव मेनन (मरणोपरांत), नगालैंड के पूर्व मुख्यमंत्री एससी जमीर, ओलंपियन बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु, एम. मुमताज अली, मुजफ्फर हुसैन बेग, अजय चक्रवर्ती, मनोज दास, बालकृष्ण दोशी, कृष्णअम्मल जगन्नाथ, उत्तराखंड के जाने-माने पर्यावरणविद और समाजसेवी डॉ. अनिल प्रकाश जोशी, शेरिंग लैंडल, प्रख्यात उद्योगपति आनंद महिंद्रा, प्रो. जगदीश सेठ, और उद्योगपति वेणु श्रीनिवासन पद्म भूषण से सम्मानित हस्तियों में शामिल हैं.
जबकि महान गणितज्ञ वशिष्ठ नारायण सिंह (मरणोपरांत), प्रख्यात गांधीवादी चिंतक डा. रामजी सिंह, जेपी आंदोलन के सक्रिय सहयोगी विमल जैन, कलाकार श्याम शर्मा, रामचरित मानस की गायिका श्रीमती शांति जैन, स्त्रीरोग विशेषज्ञ डा. शांति राय, विज्ञानी सुजय गुहा, लंगर बाबा के नाम से प्रसिद्ध जगदीश लाल अहूजा, 21 हजार लावारिस शवों का अंतिम संस्कार करने वाले मोहम्मद शरीफ, कश्मीर में दिव्यांग बच्चों के लिए काम करने वाले जावेद अहमद टाक, जंगलों की एनसाइक्लोपिया के रूप में जाने जानी वाली तुलसी गौडा, अदनान सामी, करण जौहर, कंगना रनौट, एकता कपूर, सुरेश वाडकर, उद्योगपति भरत गोयनका, हॉकी खिलाड़ी जीतू राय, जगदीश लाल आहूजा, मोहम्मद शरीफ, जावेद अहमद टाक, तुलसी गोडा, सत्यनारायण मुंदयूर, अब्दुल जब्बार, उषा चौमार, पोपटराव पवार, हरेकाला हजब्बा, अरुणोदय मंडल, राधामोहन और साबरमती, कुशल कोनवार शर्मा, त्रिनिती सावो, रविकन्नन, एस रामकृष्णन, सुंदरम वर्मा, मुन्ना मास्टर, योगी आर्यन, राहीबाई सोमा पोपेरा, हिम्मत राम भांभू, मोझ्झिकल पंकजाक्षी सहित कुल 118 नाम पद्मश्री सम्मान पाने वालों में शामिल हैं.


loading…

Loading…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *