बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने गेल के आलाधिकारियों के साथ पटना में पाइप लाइन से घरों में नेचुरल गैस (PNG) व वाहनों के लिए CNG आपूर्ति की उच्चस्तरीय समीक्षा बैठक के बाद बताया कि सिटी गैस डिस्ट्रीब्यूशन (CGD) के तहत 2024 तक पटना के 1.75 लाख घरों में PNG व 2.20 लाख गाड़ियों को CNG उपलब्ध कराने का लक्ष्य है.
गेल के कार्यकारी निदेशक के बी सिंह, जीएम आलोक कुमार व पटना परिक्षेत्र के जीएम रजनीश गोयल के साथ बैठक करने के बाद सुमो ने बताया कि पटना के 9,110 घरों में पाइप लाइन से PNG कनेक्शन दिया जा चूका है, जबकि मार्च 2020 तक 6 हजार और घरों में कनेक्शन उपलब्ध करा दिया जायेगा. पटना में नौबतपुर के साथ ही राजधानी के रूकुनपुरा, कुम्हरार, टाल प्लाजा, फतुहा में CNG की आपूर्ति शुरू कर दी गयी है. मार्च तक तीन अन्य स्थानों सगुना मोड़, रामजयपाल नगर, व दानापुर-दीघा रोड में भी CNG मिलना प्रारंभ हो जायेगा.
उन्होंने आगे बताया कि प्रधानमंत्री ऊर्जा गंगा पाइपलाइन परियोजना के तहत दिसम्बर 2020 तक फुलपुर-हल्दिया पाइप लाइन के अन्तर्गत 1,764 करोड़ की लागत से बिहार के 9 जिलों के 439 गांवों से होकर 436 कि.मी. जबकि बरौनी-गुवाहाटी पाइप लाइन के अन्तर्गत राज्य के छह जिलों के 197 गांवों से होकर 278 कि.मी. पाइप लाइन बिछाने का कार्य दिसम्बर, 2020 तक पूरा करने का लक्ष्य निर्धारित है. इसके लिए पटना में गेल और अन्य जिलों में 3 अन्य कम्पनियां आईओसी, थिंक गैस व अडानी गैस प्रा. लि. कार्य कर रही है.


loading…

Loading…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *