तमिलनाडु के रामनाथपुरम में नरेंद्र मोदी ने सबरीमाला मंदिर का मुद्दा उठाते हुए कहा कि इस मामले में कांग्रेस, कम्युनिस्ट और मुस्लिम लीग खतरकनाक गेम खेल रही है.
उन्होंने कांग्रेस और महागठबंधन पर हमला बोलते हुए कहा कि तीन तलाक पर संसद में सरकार ने महिलाओं की गरिमा में बिल पास कराया, लेकिन कांग्रेस, डीएमके और मुस्लिम लीग इसका विरोध करती रही.
इससे पहले तमिलनाडु के थेनी पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने AIADMK के साथ साझा चुनावी जनसभा को संबोधित किया. PM के साथ मुख्यमंत्री के. पलानीस्वामी और उप-मुख्यमंत्री ओ पन्नीरसेल्वम भी मंच पर मौजूद थे. मोदी ने राहुल गांधी का नाम लिए बगैर कहा कि कुछ दिन पहले डीएमके सुप्रीमो ने एक ‘नामदार’ को प्रधानमंत्री उम्मीदवार पेश किया, लेकिन उनके महामिलावटी साथियों में से कोई उस नामदार को PM पद के लिए मानने को तैयार नहीं है. ऐसा क्यों है? क्योंकि सभी कतार में हैं और प्रधानमंत्री पद का ख्वाब देख रहे हैं.
अपना भाषण शुरू करने से पहले प्रधानमंत्री ने जलियांवाला बाग कांड की 100वीं बरसी पर अपनी श्रद्धांजलि दी. उन्होंने तमिलनाडु के दिवंगत नेताओं एमजीआर और जयललिता को भी श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि देश को ऐसे नेताओं पर गर्व है, जिन्होंने गरीबों के लिए काम किया.
PM ने पी. चिदंबरम का नाम लिए बगैर उनपर निशाना साधते हुए कहा कि हम सभी इस बात के गवाह हैं कि पिता वित्त मंत्री बनता है और बेटा देश लूटता है. जब भी उनकी सरकार बनी है, उन्होंने हमेशा लूटा है.
प्रधानमंत्री ने कहा कि आज भारत दुनिया में तेजी से अपनी जगह बना रहा है, लेकिन कांग्रेस, डीएमके और उनके महामिलावटी दोस्त इसे मानने को तैयार नहीं है, इसलिए वे मुझसे नाराज हैं. मध्य प्रदेश में आयकर विभाग के छापे के लेकर भी PM ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि सरकार उनका ATM बन गई है. गरीबों और बच्चों के पैसे का इस्तेमाल चुनाव में किया जा रहा है. इसे तुगलक रोड घोटाले के रूप में जाना जाता है.
मोदी ने कहा कि मैं कांग्रेस से पूछना चाहता हूँ कि भोपाल गैस कांड के पीड़ितों को कौन न्याय दिलाएगा? 1984 दंगों के शिकार लोगों को कौन न्याय दिलाएगा?


loading…

Loading…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *