Asian Games : नीरज चोपड़ा ने इतिहास रच भाला फेंक में जीता गोल्ड मेडल

 106 



भारत के 20 वर्षीय युवा स्टार एथलीट नीरज चोपड़ा ने इतिहास रचते हुए जैवलिन थ्रो (भाला फेंक) में एशियन गेम्स 2018 के 9वें दिन गोल्ड मेडल जीता. चोपड़ा ने पहली बार भारत को इस स्पर्धा में एशियन गेम्स का गोल्ड मेडल दिलाया.
हरियाणा के पानीपत में जन्मे चोपड़ा 18वें एशियाई खेलों की ओपनिंग सेरिमनी में भारतीय ध्वजवाहक भी थे. इससे पहले 1982 के एशियाई खेलों में गुरतेज सिंह ने जैवलिन में ब्रॉन्ज मेडल जीता था. नीरज ने 88.06 मीटर दूर भाला फेंका, जबकि चीन के लिउ किजेन ने लगभग 6 मीटर कम 82.22 मीटर के साथ सिल्वर मेडल जीता. नीरज ने अपने पहले प्रयास में 83.46 मीटर भाला फेंका पर तीसरे प्रयास में 88.06 मीटर भाला फेंक कर अपना गोल्ड मेडल पक्का कर लिया.
नीरज कॉमनवेल्थ गेम्स में भी भारत के लिए गोल्ड मेडलिस्ट थे, तब 86.47 मीटर के साथ गोल्ड कोस्ट में गोल्ड मेडल जीता था. इससे पहले वे 2016 में पोलैंड में अंडर-20 वर्ल्ड चैंपियनशिप में 86.48 मीटर थ्रो के साथ चैंपियन बने थे, वो एशियन चैंपियनशिप भी जीत चुके हैं.


भारत के लिए सोमवार को सुबह स्टार शटलर और लंदन ओलिंपिक की ब्रॉन्ज मेडलिस्ट साइना नेहवाल ने बैडमिंटन में ब्रॉन्ज मेडल जीता. इसके बाद ऐथलेटिक्स में धारुन अय्यासामी (400मीटर बाधा दौड़), सुधा सिंह (3000 मीटर स्टीपलचेस) और नीना वरकिल (लॉन्ग जंप) ने सिल्वर मेडल जीते. 18वें एशियाई खेलों में 9वें दिन की समाप्ती तक 8 गोल्ड, 13 सिल्वर और 20 ब्रॉन्ज मेडल के साथ भारत पदक तालिका में 9वें स्थान पर है.
गोल्ड मेडल जीतने के बाद नीरज ने कहा कि प्रतियोगिता अच्छी रही, मैंने ट्रेनिंग अच्छी की थी और देश को गोल्ड दिलाने पर ही फोकस था. मैं अपना मेडल अटल बिहारी वाजपेयी को समर्पित करता हूं, जो एक महान इंसान थे. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नीरज चोपड़ा को गोल्ड जीतने पर बधाई देते हुए ट्विटर पर लिखा- ‘जब नीरज फील्ड पर होते हैं, तो उनसे बेस्ट की उम्मीद होती है. इस युवा ऐथलीट ने जैवलिन थ्रो में गोल्ड जीतकर देश को और खुश किया है. उन्हें नया रेकॉर्ड बनाने के लिए भी बधाई.’

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए Pileekhabar के Facebook पेज को लाइक करें

loading...


Loading...



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *