जगन्नाथपुर महोत्सव में नीतू की भोजपुरी गीतों ने मचाया धमाल

रथयात्रा के उपलक्ष्य में राँची के जगन्नाथपुर मेला परिसर में झारखंड के कला, संस्कृति एवं युवा विभाग द्वारा आयोजित श्री जगन्नाथ महोत्सव में झारखंड और बाहर से आए हुए कई नामचीन कलाकारों ने अपनी प्रस्तुतियों से दर्शकों व श्रोताओं का मन मोह लिया। लोक गायिका डॉ नीतू कुमारी नवगीत ने […]

Posted in कला-संस्कृति | Tagged , , | Leave a comment

नीतू नवगीत और ममता मेहरोत्रा को पिंकशी पावर वूमेन अवार्ड

लोकगीतों के माध्यम से समाज में सार्थक बदलाव हेतु पहल करने के लिए लोक गायिका डॉ नीतू कुमारी नवगीत एवं लेखन और समाज सेवा के क्षेत्र में विशेष योगदान के लिए वरिष्ठ लेखिका ममता मेहरोत्रा को अनुमाया ह्यूमन रिसोर्स फाउंडेशन की ओर से पिंकशी पावर वूमेन अवार्ड-18 दिया गया । […]

Posted in कला-संस्कृति | Tagged | Leave a comment

शेरशाह महोत्सव का माहौल संगीतमय

शेरशाह सूरी महोत्सव में आयोजित रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम में बिहार की प्रसिद्ध लोक गायिका डॉ नीतू कुमारी नवगीत ने अपनी दमदार प्रस्तुति से पुरे माहौल को संगीतमय बना दिया। नवगीत ने बिहार गौरव गान, प्रदेश के पारंपरिक लोक गीतों और महिला सशक्तिकरण से संबंधित गीतों की प्रस्तुति के पूर्व ‘मंगल […]

Posted in कला-संस्कृति | Tagged | Leave a comment

CBSE 10th Results: लाइलाज बीमारी से पीड़ित अनुष्का पांडा ने रचा इतिहास…

कहते हैं कि अगर हौंसले बुलंद हो तो कोई भी मंजिल मुश्किल नहीं है. गुरुग्राम के सनसिटी स्कूल की छात्रा अनुष्का पांडा ने कुछ ऐसा ही कर दिखाया है जिससे यह बात सच साबित होती है. मंगलवार को आए सीबीएसई की दसवीं क्लास के नतीजों में अनुष्का ने दिव्यांग कैटेगरी […]

Posted in कला-संस्कृति | Leave a comment

मिस्र के मंदिर की तरह ताजमहल भी हो सकता है शिफ्ट !

ऐतिहासिक धरोहर में से एक ताजमहल ने उत्तर प्रदेश के आगरा शहर को विश्व पटल पर एक पहचान दी है। लेकिन पिछले कुछ समय से देखा जाए तो ताजमहल को लेकर काफी विवाद हो रहा है। लेकिन धर्म के बीच फंसे इस ताजमहल को क्या कहीं शिफ्ट किया जा सकता […]

Posted in कला-संस्कृति | Leave a comment

गायन, नृत्य और नाटक की त्रिवेणी बही

ऑड्रे हाउस रांची में पर्यटन कला संस्कृति खेलकूद एवं युवा कार्य विभाग के सांस्कृतिक कार्य निदेशालय द्वारा आयोजित शनिपरब सांस्कृतिक कार्यक्रम में नृत्य नाटक और गायकी की त्रिवेणी शनिवार की संध्या में देखने को मिली. दिव्य ज्योति नाहा की टीम ने गणपति वंदना एवं नारी शक्ति पर आधारित मनभावन नृत्य […]

Posted in कला-संस्कृति | Tagged , | Leave a comment

लोक बोलियों को लिखने-बोलने में शामिल करें : जगदीश उपासने

स्थानीय बोली बोलने पर आज की पीढ़ी हीनता की भावना महसूस करती है, यह संपूर्ण समाज व देश के लिए चिंता की बात है. आज अगली पीढ़ी को लोक शब्दों की जानकारी तक नहीं है इसके लिए किसी बाहरी ताकत को जिम्मेदार ठहराने की बजाय हर व्यक्ति को लोक भाषा […]

Posted in कला-संस्कृति | Tagged , , | Leave a comment

केसरिया महोत्सव का भव्य आयोजन

केसरिया महोत्सव के भव्य आयोजन में बिहार की प्रसिद्ध लोक गायिका डॉ नीतू कुमारी नवगीत ने सांस्कृतिक कार्यक्रमों में अपने गीतों से सबको मंत्र- मुग्ध कर दिया. केसरिया महोत्सव (मोतिहारी) का उद्घाटन प्रभारी मंत्री विनोद नारायण झा, पर्यटन मंत्री प्रमोद कुमार, सहकारिता मंत्री राणा रंधीर सिंह और जिलाधिकारी रमण कुमार […]

Posted in Uncategorized, कला-संस्कृति | Tagged | Leave a comment

आज तक फेल नहीं हुयी इस बुजुर्ग द्वारा की गयी भूकम्प की भविष्यवाणी

विज्ञान के हिसाब से आज तक भूकंप की भविष्यवाणी कभी संभव नहीं है और कई वैज्ञानिक भी इस तरह से मानते हैं लेकिन बनारस के काशी में एक ऐसे बुजुर्ग हैं जो भूकंप की भविष्यवाणी करते हैं और उनकी भविष्यवाणियां आज तक बिल्कुल सटीक होती हैं. बादलों की चाल से […]

Posted in कला-संस्कृति | Leave a comment

डॉ नवगीत की प्रस्तुती में दिखी नृत्य, नाटिका और लोकगीतों की त्रिवेणी

लोकगीतों के माध्यम से समरस समाज की स्थापना और नारियों को उचित सम्मान दिलाने को अपना लक्ष्य बना चुकी बिहार की प्रसिद्ध लोक गायिका डॉ नीतू कुमारी नवगीत स्वयं स्त्री शिक्षा और महिला सशक्तिकरण से संबंधित गीतों की रचना कर जन चेतना की खातिर उन्हें गाती हैं. डॉ राम मनोहर […]

Posted in कला-संस्कृति | Tagged , , | Leave a comment