बिहार की संस्कृति से जुड़े मगही, मैथिली और भोजपुरी गीतों की प्रस्तुति कर प्रसिद्ध लोक गायिका डॉ नीतू कुमारी नवगीत ने भारतीय नृत्य कला मंदिर में भारतीय सांस्कृतिक संबंध परिषद्, भारतीय विदेश मंत्रालय एवं कला, संस्कृति एवं युवा विभाग, बिहार सरकार के सहयोग से लोकगीतों पर आधारित कार्यक्रम में लोगों का मन मोह लिया.
पूर्व मध्य रेल के महाप्रबंधक ललित चंद्र त्रिवेदी ने कार्यक्रम का विधिवत उद्घाटन किया. सैकड़ों संगीत प्रेमियों की मौजूदगी में भारतीय सांस्कृतिक संबंध परिषद के क्षेत्रीय निदेशक और रीजनल पासपोर्ट अधिकारी प्रवीण मोहन सहाय ने इस अवसर पर कहा कि कला और कलाकारों को प्रोत्साहित करने के लिए हम प्रतिबद्ध हैं.
कार्यक्रम में प्रसिद्ध लोक गायिका डॉ नीतू कुमारी नवगीत ने सबसे पहले महाकवि विद्यापति रचित वंदना “जय जय भैरवी असुर भयावनि” प्रस्तुत कर माहौल को भक्तिमय बना दिया, फिर “कोयल बिन बगिया ना शोभे राजा”, “कौन देशे गेले बलमुआ”, “कथिया लईहे ना, रेलिया बैरन पिया को लिए जाए रे”, “सेजिया पर लोटे काला नाग हो”, “कचौड़ी गली सून कइला बलमू”,” हमारा आम अमरैया बड़ा नीक लागेला”, “पिपरा के पतवा फुनुगिया डोले रे ननदी वैसे डोले जियरा हमार” जैसे चर्चित झूमर गाकर लोगों को झुमने पर मजबूर कर दिया.


नवगीत ने सोहर गीत “धन-धन नगर अयोध्या के धन राजा दशरथ हो” और “जनकपुर की पुष्प वाटिका में राम-सिया मिलन पर आधारित गीत “देख कर रामजी को जनक नंदिनी, बाग में बस खड़ी की खड़ी रह गई” गाकर तालियों के शोर से भारतीय नृत्य कला मंदिर को हिला दिया.
ग्रामीण संस्कृति में सोनपुर मेला देखने की जिद्द करती नायिका की भावनाओं की प्रस्तुति करते हुए उन्होंने “आग लगे सैंया जी तोहरी नौकरिया कि कईसे जईबे ना, हम अब सोनपुर के मेलवा से कईसे जईवे ना” गीत गाया तो वहीं मां गंगा की स्तुति करते हुए उन्होंने “मांगी ले हम वरदान हे गंगा मैया, मांगी ले हम वरदान” गाकर श्रोताओं को मंत्र मुग्ध कर दिया.
महिला सशक्तिकरण पर बल देते हुए उन्होंने स्वरचित गीत “खेले- कूदे के दिन में न शादी”, “बिटिया के भैया पढ़ा बलल जाई हो”, “या रब हमारे देश में बिटिया का मान हो” और स्वच्छता गीत “घर घर अलख जगायेंगे स्वच्छ भारत बनायेंगे” गया. सांस्कृतिक कार्यक्रम में डा नवगीत के साथ बांसुरी पर मोहम्मद शर्रफुद्दीन, ढोलक पर विजय चौबे, कैसियो पर राजन कुमार प्रथम, प्रकशन पर ऋषि राज, तबला पर राजन कुमार द्वितीय और हारमोनियम पर राकेश कुमार ने संगत किया.



loading…

Loading…






Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *