अयोध्या में दीपोत्‍सव 2018 के अवसर पर UP के CM योगी आदि‍त्‍यनाथ ने लोगों को दीपावली की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि अयोध्‍या हमारी आन बान और शान का प्रतीक है. अयोध्या की पहचान भगवान राम से है और आज से फैजाबाद जनपद को अयोध्‍या के नाम से जाना जाएगा.
योगी ने आगे कहा कि अयोध्या में राजा दशरथ के नाम पर एक मेडि‍कल कॉलेज खोला जाएगा तथा श्रीराम के नाम पर एयरपोर्ट बनाया जायेगा. उन्होंने कहा कि सरयू जी में अब कोई गंदा नाला नहीं गिरेगा. दीपोत्‍सव कार्यक्रम के अंतर्गत अयोध्‍या में क्‍वीन हाउ पार्क का भी उद्घाटन किया.
योगी सरकार इससे पहले इलाहाबाद का नाम प्रयागराज तथा लखनऊ के इकाना स्‍टेडि‍यम का नाम अटल बि‍हारी वाजपेयी के नाम पर कर चुकी है. योगी ने कहा कि पहले लोग अयोध्या का नाम लेने में डरते थे, जबकि पूरा देश चानता है कि अयोध्या क्या चाहती है. मोदी सरकार राम राज्य की अवधारणा पर काम कर रही है.


योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हम राम राज्य लाएंगे, ऐसा शासन जहां किसी प्रकार की दुख-दरिद्रता न हो, यही तो रामराज्य है. आज भावनाएं हिलोरें मार रही हैं. अयोध्या के साथ कोई अन्याय नहीं कर सकता, दुनिया की कोई ताकत नहीं कर सकती.
योगी आदित्यनाथ 151 मीटर की भगवान श्रीराम की कांसे की प्रतिमा लगाने की घोषणा कर चुके हैं. जिसके नीचे 50 मीटर का पेडेस्टल बनाया होगा. इसका मुंह उत्तर पूर्व की तरफ होगा. प्रतिमा के ठीक नीचे पौराणिक कथाओं पर आधारित म्यूजियम होगा. विशेषज्ञों के मुताबिक इसमें लगभग 3000 करोड़ रुपये खर्च होंगे. दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में राम मंदिर निर्माण पर चर्चा के लिए के लिए दो दिनों तक साधु-संतों की बैठक हो चुकी है तो मुंबई में हुई RSS की बैठक में भी राम मंदिर को लेकर गंभीर चर्चा हुई है.
इस अवसर पर किम-जुंग-सुक ने कहा कि मुझे आमंत्रित करने केे लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और योगी आदित्यनाथ का शुक्रिया. मैं सभी लोगों को दीपोत्सव की बधाई देती हूं। इस दौरान उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक, बिहार के राज्यपाल लालजी टंडन और केंद्रीय राज्यमंत्री वीके सिंह मौजूद थे.

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए Pileekhabar के Facebook पेज को लाइक करें

loading...


Loading...



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *