चारों ओर एक ही शोर है, राममन्दिर बनवाओ, कानून बनाओ, अध्यादेश लाओ. RSS, VHP, साधू-संत रामभक्त के साथ ही AIMIM के असादुदीन ओवैसी तक चैलेंज कर रहे हैं, धमकी दे रहे हैं. पूछ रहे हैं मंदिर कब बनवाओगे? जबकि नरेंद्र मोदी ने अपने घोषणापत्र में कानूनी रास्ते से मंदिर बनवाने की बात कही थी. सबका साथ सबका विकास की बात कही थी.
हाँ, भाजपा अकेली पार्टी जरुर है जो खुलकर कहती है कि वहाँ मंदिर ही बनेगा. भाजपा के कई कार्यकर्ता और राम भक्त हिन्दू मौत के घाट उतार दिये गये, विवादित बाबरी ढांचा विध्वंस के बाद भाजपा की कई सरकारें बलिदान हो गयीं. लेकिन “राम तो कभी थे ही नहीं” कहने वाली काँग्रेस, कारसेवकों पर गोलियां चलवाने वाले मुलायम सिंह और रथयात्रा पर निकले लालकृष्ण आडवाणी को गिरफ्तार कराने वाले लालूप्रसाद को चुनावी विजय प्रदान करवाने वाले हम सभी ने बार-बार भाजपा को धूल चटवाया.
देश के प्रशासन तंत्र, न्यायव्यवस्था और मीडिया को जिन लोगों ने 70 वर्षों से पाला-पोसा उन तमाम लोगों से अकेले लड़ रहे व्यक्ति को भ्रस्टाचार में लिप्त और बेल पर जेल से बाहर रह रहे लोग चोर कह रहे हैं और हम सभी चुपचाप सुन रहे हैं. मिल रही सहूलियतों और सुधर रही व्यवस्थाओं पर ध्यान नहीं देते हुए हम पेट्रोल की बढ़ती कीमत के नाम पर गुमराह हो रहे हैं. एक बार भी 2004, 2009 और 2014 से उनकी कीमतों की तुलना नहीं करते. प्याज और टमाटर पर सरकारें बदल देते हैं.


राम मंदिर बनाने और बनवाने या राम मंदिर नहीं बनने के बाद भी मोदी का PM बनना निश्चित नहीं है. ज्ञात है कि देश का बंटवारा ही हिन्दू-मुसलमान के नाम पर हुआ था. उसी समय देश के रहनुमाओं या 30.35 करोड़ हिन्दुओं ने तय किया होता तो गुलामी की तमाम निशानियों से मुक्ति पा ली होती. आज भी अगर तमाम हिन्दू इकठ्ठा हों तो काँग्रेस, भाजपा, वामपंथी या समाजवादी, देश का कानून, फौज कोई भी मंदिर बनने से रोक नहीं पायेंगे. हमारा मंदिर प्रेम भाजपा के सत्ता में आते ही जग जाता है. कांग्रेसी, वामपंथी या समाजवादियों के सत्ता में आते ही हम सभी अपने-अपने में मस्त हो जाते हैं.
नरेंद्र मोदी हमारे बीच से निकला हुआ आम आदमी है, हमारी नौटंकी पहचानता है, हमारे चरित्र से परिचित है. वो अपने विवेक एवं धैर्य से देश के आम लोगों की भलाई के लिए रात दिन एक किये हुए है. मोदी ही देश का विकास और उसकी सुरक्षा सुनिश्चित करेगा, आम आदमी के लिए बेहतर स्वास्थ सुविधा उपलब्ध कराते हुए रोजगार के अवसर पैदा करेगा और अंततः राम मंदिर भी बनवायेगा. जिसे विश्वास हो वह भरोसा करे अन्यथा . . .

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए Pileekhabar के Facebook पेज को लाइक करें

loading...


Loading...



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *