पुनपुन (बिहार) के उदगम स्थल से जल उठाकर टंडवा (नवीनगर) स्थित मानुखाप प्राचीन बुढ़वा महादेव के मंदिर में जल चढ़ाने के लिए श्रद्धालुओं का जनसैलाब उमड़ा. इस वर्ष अंतिम सोमवारी को बजरंग आर्ट द्वारा सजावट किये गये भगवान् शिव, पार्वती एवं भोले बाबा के भूतनाथ की झांकी भी निकाली गई. इनके दर्शन हेतू ग्रामीणों का जनसैलाब उमड़ पड़ा.
सावन के प्रत्येक सोमवारी को पिछले कई वर्षो से आयोजित इस समारोह को धूमधाम से मनाया जाता है. पुनपुन का उदगम स्थल टंडवा से सात कि.मी दूर है, जहाँ से गाजे-बाजे के साथ बड़ी संख्या में श्रद्धालु जल लेकर टंडवा स्थित मानुखाप प्राचीन बुढ़वा महादेव में चढाते हैं. इसमें काफी बड़ी संख्या में महिलाएं और बच्चे भी शामिल होते हैं.


रास्ते में मुस्लिमों की घनी आबादी वाले गांव भी पड़ते हैं, इन्हीं में से एक गांव है शेखपुरा. जंहा के युवकों ने समाज में हिन्दू मुस्लिम में शांति और सद्भाव क़ायम रखने की मिशाल कायम करते हुए सभी श्रद्धालुओं को शर्बत पिलाया.
इस नेक कार्य में मो. तौकीर उर्फ़ मुन्ना, गुलाम गौश, सब्बीर आलम, फिरोज़, खुशहाल, तनवीर, अकबर, तौहीद, फैजान, सहबाज, परवेज़ आलम, राजा आलम, मो. शमीम, दिलसाद, मौअजम, नज़ीर, फ़ैसल सहित कई छोटे- छोटे बच्चे पुरे मनोयोग से लगे रहे.
पुरे आयोजन को सफल बनाने में अध्यक्ष भोला सिंह, सचिव कमलेश सिंह, कोषाध्यक्ष नवीन सिंह, ब्यवस्थापक बिनय सिंह, प्रवक्ता पी. के. सिंह सहित समस्त शिव भक्तों का योग्यदान प्रशंसनीय रहा.
टंडवा से मो. फखरुद्दीन

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए Pileekhabar के Facebook पेज को लाइक करें

loading...


Loading...



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *