भारतीय टीम के लिए रविवार का दिन बेहद खास रहा. इस दिन भारतीय महिला और पुरुष टीम ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ वनडे और टी20 सीरीज जीतकर इतिहास रच दिया.
केपटाउन में तीसरे टी20 में भारतीय पुरुष टीम ने रोमांचक मुकाबले में दक्षिण अफ्रीका को सात रन से हराकर सीरीज 2-1 से अपने नाम की. दक्षिण अफ्रीका के आमंत्रण पर पहले बल्‍लेबाजी करते हुए भारतीय टीम 20 ओवर में सात विकेट पर 172 रन ही बना पाई. शिखर धवन ने सर्वाधिक 47 और सुरेश रैना ने 43 रन बनाए. दक्षिण अफ्रीका के सामने लक्ष्‍य बहुत बड़ा नहीं था लेकिन भारतीय गेंदबाजों ने शानदार प्रदर्शन करते हुए उसे निर्धारित 20 ओवर में 6 विकेट पर 165 रन तक ही सीमित कर दिया.
मेजबान टीम के लिए कप्‍तान जेपी डुमिनी (55) टॉप स्‍कोरर रहे. आखिरी क्षणों में क्रिस्टियन जोंकर ने भी तेज 49 रन बनाते हुए टीम को जीत दिलाने का भरसक प्रयास किया.लेकिन सफल नहीं हुए. वैसे, दक्षिण अफ्रीका टीम आज की हार के लिए खुद जिम्‍मेदार रही. उसके बल्‍लेबाजों ने शुरुआत में जरूरत से ज्‍यादा रक्षात्‍मक रुख अपनाया. इस कारण आगे के बल्‍लेबाजों पर दबाव बढ़ता गया और वे विकेट गंवाते गए. भारत के लिए भुवनेश्‍वर कुमार जीत के हीरो साबित हुए. उन्‍होंने आखिरी ओवर में दक्षिण अफ्रीका को 19 रन नहीं बनाने दिए. मैच में उन्‍होंने 24 रन देकर दो विकेट लिए.
इससे पहले आज ही भारतीय महिला टीम ने दक्षिण अफ्रीका को 54 रन से हराकर पांच टी20 की सीरीज 5-1 से अपने नाम की थी.भारतीय पुरुष और महिला टीम ने पहली बार दक्षिण अफ्रीका में दो सीरीज (वनडे और टी20) सीरीज जीती हैं.सुरेश रैना को मैन ऑफ द मैच और भुवनेश्‍वर कुमार को प्‍लेयर ऑफ द सीरीज घोषित किया गया. मैच में कमर में खिंचाव के कारण विराट कोहली नहीं खेले और उनकी गैरमौजूदगी में रोहित शर्मा ने टीम की कप्‍तानी की.

दक्षिण अफ्रीका की पारी के दौरान भारत के लिए पहला ओवर भुवनेश्‍वर कुमार ने फेंका जिसकी चौथी गेंद पर हेंड्रिक्‍स ने चौका लगाकर दक्षिण अफ्रीका का खाता खोला. ओवर में 5 रन बने. जसप्रीत बुमराह की ओर से फेंके गए पारी के दूसरे ओवर में तीन रन बने. तीसरे ओवर में भुवनेश्‍वर ने रीजा हेंड्रिक्‍स (7)को शिखर धवन को आउट कर भारत को पहली सफलता दिलाई.चौथे ओवर में शारदुल ठाकुर गेंदबाजी के लिए आए. पांच ओवर के बाद दक्षिण अफ्रीका का स्‍कोर एक विकेट खोकर 22 रन था. आठवें ओवर में ऑफ ब्रेक बॉलर सुरेश रैना को आक्रमण पर लाया गया.दक्षिण अफ्रीका का दूसरा विकेट डेविड मिलर (24) के रूप में गिरा जिन्‍हें सुरेश रैना ने अक्षर पटेल से कैच कराया.10 ओवर के बाद दक्षिण अफ्रीका का स्‍कोर दो विकेट खोकर 52 रन था. इसी ओवर में दक्षिण अफ्रीका के 50 रन पूरे हुए.
मिलर की जगह दूसरे टी20 के हीरो हेनरिक क्‍लासेन बैटिंग के लिए आए. 12वें ओवर में स्पिनर अक्षर पटेल को गेंदबाजी के लिए लाया गया. इस ओवर की पहली गेंद पर ठाकुर ने क्‍लासेन का मुश्किल कैच पटका दिया. अगली दो गेंदों पर डुमिनी ने दो छक्‍के जमा दिए. ओवर में 16 रन बने.दक्षिण अफ्रीका का तीसरा विकेट क्‍लासेन (7) के रूप में हार्दिक पंड्या के खाते में गया. कैच भुवनेश्‍वर कुमार ने लपका. तीन विकेट गिरने से दक्षिण अफ्रीका टीम दबाव में आ गई.पारी का 14वां ओवर रैना ने फेंका जिसमें 12 रन बने.15वें ओवर में बुमराह को वापस गेंदबाजी पर लाया गया. इस ओवर की तीसरी गेंद पर डुमिनी ने छक्‍का जमाया.दक्षिण अफ्रीका के 100 रन 15वें ओवर में पूरे हुए.16वें ओवर में शारदुल को चौका लगाकर डुमिनी ने अर्धशतक पूरा किया.शारदुल ठाकुर की ओर से फेंका गया पारी का 18वां ओवर बेहद महंगा रहा, इसमें 18 रन बने. जोंकर ने इस ओवर में तीन चौके और एक छक्‍का लगाया. पारी के 19वें ओवर में बेहरदीन ने बुमराह को चौका और फिर जोंकर ने छक्‍का जमाया. आखिरी ओवरों की इस ‘आतिशबाजी’ से मैच में रोमांच आ गया. बुमराह के इस ओवर में 16 रन बने. आखिरी ओवर में दक्षिण अफ्रीका को जीत के लिए 19 रन की जरूरत थी और सारी उम्‍मीदें भुवनेश्‍वर कुमार पर टिकी थीं.भुवी ने निराश नहीं किया और उन्‍होंने ओवर में केवल 11 रन दिए. पारी की आखिरी गेंद पर जोंकर (49 रन, 24 गेंद, पांच चौके, दो छक्‍के) आउट हुए जिनका कैच रोहित शर्मा ने लपका. भारत के लिए भुवनेश्‍वर कुमार ने सर्वाधिक दो विकेट लिए. बुमराह, शारदुल, पंड्या और सुरेश रैना को एक-एक विकेट मिला.
इस महत्‍वपूर्ण मैच में भारतीय टीम को कप्‍तान विराट कोहली की सेवाएं नहीं मिलीं.कमर में खिंचाव के कारण वे मैच में नहीं खेले. रोहित शर्मा ने टीम की कप्‍तानी की. मैच में भारतीय टीम ने तीन बदलाव किए. विराट कोहली की जगह दिनेश कार्तिक, जयदेव उनादकट की जगह जसप्रीत बुमराह और युजवेंद्र चहल की जगह अक्षर पटेली को टीम में शामिल किया गया.


हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए Pileekhabar के Facebook पेज को लाइक करें


loading...


Loading...