चाइल्ड राइट्स एंड यू- क्राई ने बच्चों के अधिकार को सुनिश्चित कराने के उद्देश्य से विभिन्न राजनैतिक दल के प्रदेश अध्यक्षों एवं प्रमुख नेताओं को बाल घोषणा पत्र देते हुए उनसे लोकसभा चुनाव 2019 के मद्देनजर इसे तरजीह देने की मांग की. BJP ने पूछा NGO से आये हैं क्या?
बिहार बाल आवाज मंच के प्रतिनिधियों ने नेताओं को क्राई की ओर से तैयार किए गए बाल घोषणा पत्र के संदर्भ में विस्तृत जानकारी देते हुए अपने दल द्वारा जारी होने वाले घोषणा पत्र में बच्चों द्वारा तैयार मांग एवं घोषणा-पत्र को भी शामिल करने का अनुरोध किया गया. इस दौरान मंच के प्रतिनिधियों के साथ बच्चों के मुद्दे पर नेताओं ने सार्थक वार्ता करते हुए मौजूदा शिक्षा व्यवस्था को बेहतर बनाने की जरूरत का समर्थन किया. कांग्रेस, राजद, लोजपा, सपा, CPI, CPM, CPI(ML) आदि विभिन्न दलों के नेताओं से मुलाकात कर उन्हें बाल घोषणापत्र समर्पित किया गया.
अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के राष्ट्रीय सचिव एवं जम्मू कश्मीर के सह प्रभारी डॉ शकील अहमद खान विधायक ने “बाल घोषणा पत्र” एवं बिहार की शिक्षा व्यवस्था पर खुलकर बात की तथा इसके सुधार के लिए पहल करने का विश्वास दिलाया.
जनता दल यूनाइटेड के प्रदेश अध्यक्ष सह राज्यसभा सांसद श्री वशिष्ठ नारायण सिंह एवं बिहार विधानसभा में सत्तारूढ़ दल के मुख्य सचेतक सह संसदीय कार्य एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्रवण कुमार को बाल घोषणा पत्र समर्पित किया गया. दोनों ने कहा कि राज्य सरकार शिक्षा में गुणात्मक सुधार लाने के लिए प्रयत्नशील है और हमारी पार्टी बच्चों की मांग के साथ पूरा न्याय करेगी.
राष्ट्रीय जनता दल के प्रदेश अध्यक्ष सह पूर्व शिक्षा मंत्री श्री रामचंद्र पूर्वे ने क्राई द्वारा तैयार ‘बाल घोषणा पत्र’ की सराहना करते हुए इस पर विचार करने का भरोसा दिया. बिहार प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सह पूर्व मंत्री डॉ मदन मोहन झा ने इस प्रयास को एक अछूते विषय पर सार्थक पहल बताते हुए बच्चों की मांग पार्टी के उचित प्लेटफार्म तक पहुँचाने का वचन देते हुए अपने स्तर से भी हर सम्भव प्रयास करने का आश्वासन दिया.
लोक जनशक्ति पार्टी के प्रदेश महासचिव राजेंद्र विश्वकर्मा को भी बच्चों द्वारा तैयार ‘बाल घोषणा पत्र’ सौंपा गया. उन्होंने प्रतिनिधिमंडल से कहा कि दिल्ली स्थित लोजपा के राष्ट्रीय कार्यालय में भी इसे भेजा जाना चाहिए. कुछ देर हो चुकी है फिर भी हमारी पार्टी बच्चों के इन मुद्दों को प्राथमिकता देंगी.
भाकपा (माले) के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व विधायक राजाराम, समाजवादी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री देवेंद्र प्रसाद यादव को भी यह समर्पित किया गया. दोनों नेताओं ने बिहार की शिक्षा व्यवस्था को बेहतर बनाने के लिए अथक एवं सार्थक प्रयास करने का भरोसा दिया. भाकपा माले के नेता राजाराम ने कहा कि वह निश्चित रूप से बच्चों के मन की बात को अपने घोषणा पत्र में शामिल करने की पहल करेंगे. समाजवादी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष ने भी भरोसा दिलाया कि वह बच्चों के मुद्दों को अपने घोषणापत्र में शामिल करने के सन्दर्भ में केन्द्रीय समिति से बात करेंगे.
इस अभियान में बिहार बाल आवाज मंच के प्रांतीय समन्वयक राजीव रंजन, अनुसूचित जाति आयोग बिहार के पूर्व अध्यक्ष विद्यानंद विकल, सूरज गुप्ता, संजय सिंह तथा सौरभ शामिल थे. भाजपा को इसकी प्रति दी गयी या नहीं के संदर्भ में पूछने पर पता चला कि इन लोगों ने दो- तीन बार भाजपा कार्यालय में मिलने का प्रयास किया पर सफल नहीं हो पाये. कार्यालय में सिर्फ यह पूछा गया कि आप NGO से आये हैं क्या?


loading…

Loading…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *