नम आँखों से दी गई अटल जी को श्रद्धांजलि, याद में बंद रहा टंडवा बज़ार

''

टंडवा/नवीनगर:- पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर टंडवा बाज़ार में दिनांक 17.08.18 को अपराह्न 03:00 बजे से श्रद्धाजंलि सभा कि अध्यक्षता नित्यानंद तिवारी जी ने किया. कार्यक्रम में टंडवा क्षेत्र के सभी दलों के राजनैतिक कार्यकर्ता, बुद्धिजीवी छात्र एवं ग्रामीणों ने अपनी श्रद्धाजंलि अर्पित कि साथ […]

नहीं रहे अटल बिहारी वाजपेयी : 93 की उम्र में निधन, मोदी ने कहा- मैं नि:शब्द हूं

''

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का निधन गुरुवार शाम 5.05 मिनट पर हो गया। वह 93 साल के थे। अटल जी लंबे समय से बीमार चल रहे थे। वाजपेयी को सांस लेने में परेशानी, यूरीन व किडनी में संक्रमण होने के कारण 11 जून को एम्स में भर्ती किया गया […]

अटल बिहारी वाजपेयी की तबीयत बेहद नाजुक, प्राथानाओं का दौर जारी

''

भारत को लेकर मेरी एक दृष्टि है- “ऐसा भारत जो भूख, भय, निरक्षरता और अभाव से मुक्त हो” इस चर्चित पंक्ति वाले पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की हालत बेहद नाजुक है और पिछले 40 घंटे से उनकी तबीयत में कोई सुधार नहीं हुआ है. उन्हें देखने (AIIMS जाने वालों […]

चार साल में वो हुआ जिसे करने में 100 साल भी कम पड़ जाते : प्रधानमंत्री मोदी

''

आज़ादी की 72वीं सालिगरह के मौके पर लाल किले से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तिरंगा फहराने के बाद अपने संबोधन में कहा कि यह बदलाव का वक्त है., हम मक्खन नहीं, पत्थर पर लकीर खींचने वाले हैं. 2013 की रफ्तार से चलते तो कई कामों में दशकों लग जाते. लाल […]

राष्ट्र के नाम संदेश ; देश में हिंसा के लिए कोई स्थान नहीं : राष्ट्रपति

''

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने 72वें स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर राष्ट्र को संबोधित करते हुए कहा कि समाज में हिंसा के लिए कोई स्थान नहीं है. गांधीजी ने हमें अहिंसा का अस्त्र प्रदान किया है, 21वीं सदी में भी यह उतना ही प्रासंगिक है. स्वाधीनता के लिए संघर्ष करने […]

नाले की गैस से चाय बनाने वाले शख्स ने कहा ; सोचा नहीं था कि राहुल गांधी इतने अपरिपक्व हैं

''

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बायोफ्यूल डे पर अपने संबोधन में नाले की गैस से चाय बनाने वाले एक शख्स का जिक्र किया था. इसके बाद सोशल मीडिया पर PM मोदी का खूब मजाक उड़ाया गया था. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी तक ने एक रैली के दौरान मोदी के इस किस्से […]

‘राष्ट्रगान’ और ‘राष्ट्रीय गीत’ में अंतर जानें

''

स्वतंत्रता दिवस की 72वीं वर्षगांठ के मौके हम जानें अपने ‘राष्ट्रगान’ और ‘राष्ट्रीय गीत’ के बारे में. “राष्ट्रगान” की रचना रविंद्रनाथ टैगोर ने वर्ष 1911 में की थी, जिसे पहली बार 27 दिसंबर 1911 को कोलकाता में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की बैठक में गाया गया था. “राष्ट्रीय गीत” की रचना […]