3 हजार पाक सैनिकों पर भारी पड़े थे 124 भारतीय सैनिक, खदेड़ कर उलटे पैर भगा दिया था

 556 

भारत-पाक के बीच हुआ 1971 का युद्ध स्वतंत्र भारत के इतिहास में हमेशा अमर रहेगा। 1971 में हुए भारत पाक युद्ध‌ में सेक्टर 33 चंडीगढ़ के रहने वाले ब्रिगेडियर कुलदीप सिंह चांदपुरी ने एक अहम भूमिका निभाई थी।
चांदपुरी ही थे, जिन्होंने अपने 90 सैनिकों के साथ पाक के 2000 सैनिकों का मुकाबला किया और उन्हें खदेड़ दिया। 4 दिसंबर की उस रात को भारत पाकिस्तान के रहीमयार खान डिस्ट्रिक्ट क्वार्टर पर अटैक करने वाला था। किन्हीं वजहों से भारत अटैक नहीं कर पाया, पर बीपी 638 पिलर की तरफ से आगे बढ़ते हुए पाकिस्तान ने भारत की लोंगेवाला चेकपोस्ट पर अटैक कर दिया।


कुलदीप चांद पुरी वहां लोंगेवाला पोस्ट पर अपने 124 साथियों के साथ तैनात थे। पाकिस्तानी सैनिक जब कब्जा करने के लिए आगे बढ़े तो पंजाब रेजीमेंट की 23वीं बटालियन के मेजर कुलदीप सिंह चांदपुरी ने अपने 124 सैनिकों के साथ पाक फौज का सामना किया।
चौदह दिनों तक चली इस लड़ाई को फोर्टिन डेज़ वार के नाम से भी जाना जाता है। इस लड़ाई में करीब दो दर्जन जवान शहीद हो गए थे। दुश्मनों के 58 में से 52 टैंक खत्म कर दिए थे जबकि छह टैंकों को कब्जे में लिया गया था।
कुलदीप सिंह के बारे में कई कहानियां व फिल्में भी बनी है। साल 1997 में पर्दे पर आई फिल्म बॉर्डर में सन्नी दयोल ने कुलदीप सिंह का मुख्य रोल अदा किया था। साल 1971 में भारत पाक युद्ध के दौरान जांबाजी का ऐसा प्रदर्शन किया कि जो कभी भुलाया नहीं जा सकता।



हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए Pileekhabar के Facebook पेज को लाइक करें

loading…


Loading…



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *