2019 की जंग के लिए गठित हुआ राहुल गाँधी का कोर ग्रुप, मेनिफेस्‍टो एवं पब्‍लिसिटी कमिटी

 83 



कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने लोकसभा चुनाव 2019 के लिए कमर कस ली है. उन्होंने इसी क्रम में 9 सदस्यीय कोर ग्रुप कमिटी का गठन किया है. इसी के साथ 19 सदस्यीय मेनिफेस्‍टो और 13 सदस्यीय पब्‍लिसिटी कमिटी के सदस्‍यों का भी मनोनयन किया गया है. कमिटियों में युवा जोश की तुलना में अनुभव को दी गयी खास तरजीह.
कोर ग्रुप कमिटी के नौ सदस्‍यों में एके एंटोनी, गुलाम नबी आजाद, पी चिदंबरम, अशोक गहलोत, मल्लिकार्जुन खड़गे, अहमद पटेल, जयराम रमेश, रणदीप सुरजेवाला, केसी वेणुगोपाल शामिल हैं. अगले आम चुनाव के लिए गठित कोर ग्रुप कमिटी में युवा जोश की तुलना में अनुभव को खास तरजीह दी गयी है.
कोर ग्रुप में जिन 9 नेताओं को रखा गया है, उनमें 6 वो लोग हैं जो 23 सदस्यीय CWC में भी शामिल हैं. CWC से इतर इसमें 3 नए लोग पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम, जयराम रमेश और रणदीप सुरजेवाला शामिल हैं. कमिटी में युवा की बजाए अनुभव पर ज्यादा भरोसा जताया है. रणदीप सुरजेवाला (51) और केसी वेणुगोपाल (55) को छोड़ दिया जाए तो कमिटी में शामिल अन्य सभी नेता 70 के करीब या फिर उसके अधिक उम्र के हैं. जयराम रमेश (64) कमिटी में शामिल तीसरे सबसे कम उम्र के नेता हैं. अशोक गहलोत (67), अहमद पटेल (69), गुलाम नबी आजाद (69), पी चिदंबरम (72), मल्लिकार्जुन खडगे (76) और सबसे बुजुर्ग नेता एक एंटनी 77 वर्ष के हैं.


मेनिफेस्‍टो कमिटी में पी चिदंबरम, सैम पित्रौदा, मनप्रीत बादल, भूपेंद्र सिंह हुड्डा, जयराम रमेश, शशि थरुर, सुस्‍मिता सेन, प्रोफेसर राजीव गौड़ा, सलमान खुर्शीद, बिंदू कृष्‍णन, शैलेजा कुमारी, रघुवीर मीणा, प्रोफेसर बालचंद्र, मीनाक्षी नटराजन, रजनी पाटिल, सचिन राव, तमद्रवाज साहू, मुकुल संगमा और ललितेश पति त्रिपाठी शामिल किये गये हैं.
प्रचार समिति में भक्‍त चरण दास, प्रवीण चक्रवर्ती, मिलिंद देवड़ा, पवन खेड़ा, केतकर कुमार, वीडी सतीशन, आनंद शर्मा, जयवीर शेरगिल, राजीव शुक्‍ला, दिव्‍या स्पंदना, रणदीप सुरजेवाला, प्रमोदी तिवारी, मनीष तिवारी शामिल हैं.
पिछले दिनों कांग्रेस अध्यक्ष ने पार्टी की CWC (कांग्रेस कार्य समिति) का गठन किया था, जिसमें अनुभवी नेताओं के साथ ही युवा चेहरों को जगह दी गई थी. CWC के सदस्यों में राहुल गांधी के अलावे पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, मोती लाल वोरा, अशोक गहलोत, गुलाम नबी आजाद, मल्लिकार्जुन खड़गे, एके एंटनी, अहमद पटेल, अंबिका सोनी, ओमन चांडी के अलावा असम के पूर्व मुख्यमंत्री तरूण गोगोई, कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धरमैया, उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत, आनंद शर्मा, कुमारी शैलजा, मुकुल वासनिक, अविनाश पांडे, केसी वेणुगोपाल, दीपक बाबरिया, ताम्रध्वज साहू, रघुवीर मीणा और गैखनगम के नाम भी कांग्रेस शामिल किये गये थे.

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए Pileekhabar के Facebook पेज को लाइक करें

loading...


Loading...



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *