वरिष्‍ठ अधिवक्ता एचएस फूलका ने कांग्रेस पर करारा हमला करते हुए कहा कि वो कमलनाथ को सजा दिलाने तक चुप नहीं बैठेंगे. कांग्रेस पहले भी बचाती रही है, अभी भी बचा रही है. उन्होंने लोक अभियान अवॉर्ड कार्यक्रम के अवसर पर उक्त बातें कहीं.
आम आदमी पार्टी का साथ छोड़ने के बाद से भाजपा के कई नेताओं के वरिष्ठ वकील एचएस फूलका से नजदीकी बढ़ रही थी. कुछ दिनों पहले ही केंद्रीय राज्यमंत्री विजय गोयल ने उन्हें अपने जन्मदिन पर आयोजित सहभोज में बुलाया था. लोक अभियान अवॉर्ड कार्यक्रम के अवसर पर केंद्रीय मंत्री विजय गोयल सिंह और केंद्रीय मंत्री राधामोहन ने उन्हें सम्‍मानित किया.
इस अवसर पर गोयल ने कहा कि फूलका ने 1984 के दंगा पीडि़त सिखों के लिए जो लड़ाई लड़ी वह सराहनीय है. इसलिए इनका सम्मान किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि तीन तलाक जैसे मुद्दे पर विपक्ष के रुख के बावजूद नरेंद्र मोदी सरकार अध्यादेश लायी. इस कड़ी में हम तीन तलाक की पीड़िता और सुप्रीम कोर्ट में चले मामले में याचिकाकर्ता रहीं सायरा बानो को कैसे भूल सकते हैं?
गोयल ने कहा कि सायरा ने मुस्लिम महिलाओं की हक के लिए जिस तरह से संघर्ष किया है वह एक मिसाल है. उन्हें भी सम्मानित किया जाएगा. तीन तलाक को अदालत में चुनौती देने वाली शायरा बानू ने अपने मौलिक अधिकारों का हवाला देते हुए इस पर्सनल लॉ को चुनौती दिया. ऐसा करने वाली वह पहली मुस्लिम महिला हैं.
फुल्का ने कुछ दिनों पूर्व बिना कारण बताए आप से इस्तीफा दे दिया था. फुल्का आप से इस्तीफा देने की वजहों के बारे में बात करने से लगातार इंकार करते रहे हैं. उन्होंने पंजाब में मादक पदार्थ के खतरों से लड़ने और शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक समिति के राजनीतिकरण के खिलाफ गैर-राजनीतिक संगठन बनाने की इच्छा भी जाहिर की थी.
फुल्का आप और कांग्रेस के बीच किसी भी तरह के गठबंधन के भी विरुद्ध थे. दोनों पार्टियों के बीच जहां चुनाव से पूर्व गठबंधन की बात चल रही है वहीं दोनों ही आधिकारिक तौर पर इससे इनकार भी कर रहे हैं.
फुल्का राजीव गांधी से भारत रत्न छीनने की मांग पर आप के रुख से भी नाराज थे. फुल्का ने अपने अगले राजनीतिक कदम की घोषणा नहीं की है, हालांकि उन्होंने साफ कहा कि वह अगला लोकसभा चुनाव नहीं लड़ेंगे.



loading…

Loading…






Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *