ब्रिटेन के आम चुनाव में निचले सदन हाउस ऑफ कॉमन्स में भारतीय मूल के सांसदों ने इसबार शानदार सफलता हासिल की है. भारतीय मूल के कुल 15 सांसद जीतने में सफल रहे हैं. इसमें 11 सांसद दुबारा जबकि चार नए चेहरे संसद में पहुंचे हैं. 2017 के चुनाव में भारतीय मूल के 12 उम्मीदवारों ने जीत दर्ज की थी.
भारतीय मूल के कुल 63 लोगों ने इस बार चुनाव लड़ा था. इनमें से कंजरवेटिव पार्टी ने 25, लेबर पार्टी ने 13, ब्रेक्जिट पार्टी ने 12 और लिबरल डेमोक्रेट्स ने 8 भारतवंशियों को चुनावी अखाड़े में उतारा था. बाकी अन्य दलों के या निर्दलीय उम्मीदवार थे. इनमें से कंजरवेटिव और लेबर पार्टी से 7-7 भारतीय मूल के उम्मीदवारों ने जीत दर्ज की, जबकि लिबरल डेमोक्रेट्स के एक भारतवंशी ने जीत का परचम लहराया.
विपक्षी लेबर पार्टी को चुनाव में करारी शिकस्त का सामना करना पड़ा है लेकिन उसके भारतीय मूल के सभी सांसदों ने जीत हासिल की है. पहली बार जीत हासिल करने वाले भारतीय मूल के उम्मीदवारों में कंजर्वेटिव पार्टी के गगन मोहिंद्रा और क्लेयर कोर्टिन्हो तथा लेबर पार्टी से नवेंद्रु मिश्रा शामिल हैं. पूर्व गृह मंत्री प्रीति पटेल ने विटहेम से आसान जीत हासिल की, वो इस बार भी जॉनसन की टॉप टीम का हिस्सा बनेंगी. पिछली बार जीत हासिल कर ब्रिटेन की पहली महिला सिख सांसद बनने वाली प्रीत कौर गिल तथा ब्रिटेन के पहले पगड़ीधारी सिख सांसद तनमनजीत सिंह धेसी ने भी दोबारा जीत हासिल की है.


loading…

Loading…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *