छत्तीसगढ़ के सुकमा में सुरक्षा बलों को तब बड़ी कामयाबी मिली जब जिले की पुलिस, एसटीएफ, और डीआरजी ने सामूहिक ऑपरेशन के तहत 34 नक्सलियों को गिरफ्तार किया।
एसपी अभिषेक मीणा के अनुसार पुलिस की संयुक्त पार्टी इलाके में सर्चिंग के लिए निकली थी। इसी दौरान नक्सलियों को गिरफ्तार किया गया है। पकड़े गए नक्सलियों के विरूद्ध कई गंभीर मामले लंबित हैं। वहीं बुरकापाल हमले में भी इनमें से कुछ की संलिप्तता पाई गई है। पुलिस के अनुसार चिंतागुफा इलाके से 31 नक्सलियों को गिरफ्तार किया गया, जबकि तीन नक्सलियों की गिरफ्तारी फुलबागड़ी क्षेत्र से हुई है।

इस ऑपरेशन में गिरफ्तार नक्सलियों में स्वयंभू कमांडर पोडियम कोसा, स्वयंभू डिप्टी कमांडर कवासी जोगा, मिदियम पोज्जा, मदकम कोसा, मड़कम गंगा, मुचाकी हांदा, मडकम मत्ता, कवासी कोसा, माडवी सन्ना, माडवी हिडमा, पोडयामी हुंगा, माड़वी हांदा, मडकम हांदा, मड़कम सिंगा, सोढ़ी नंदा, माड़वी पीसा, कवासी भीमा, माड़वी लक्ष्मा व पदाम मुक्का, कवासी भीमा, मडकम बुधरा, मड़कम हुंगा, मडकम भीमा, मड़कम भीमा, माड़वी धुरवा, सोढ़ी मुक्का, मिडियम भीमा भी शामिल है।
इससे पहले 8 जून को सुरक्षा बलों ने 18 नक्सलियों, 22 मई को सीआरपीएफ ने चार नक्सलियों और 6 मई को 19 नक्सलियों को गिरफ्तार किया था। पुलिस ने बताया कि ये सभी नक्सली 24 अप्रैल को चिंतागुफा के बुरकापाल इलाके में सीआरपीएफ जवानों पर हुए हमले में शामिल थे। इसके अलावा इन पर लूट, आगजनी समेत अन्य आरोप भी हैं।

ताज़ा अपडेट पाने के लिए हमारे पेज को लाइक करें


loading…

Loading…



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *