वेंकैया नायडू देश के नये उपराष्ट्रपति बने, गोपाल कृष्ण को बड़े अंतर से हराया

 84 


एम. वेंकैया नायडू ने उपराष्ट्रपति चुनाव में शानदार जीत दर्ज की, उन्होंने विपक्ष के उम्मीदवार गोपालकृष्ण गांधी को हरा दिया है। वेंकैया नायडू को 516 वोट मिले, वहीं गोपालकृष्ण गांधी को 244 वोट मिले। इसी के साथ वेंकैया नायडू अगले उपराष्ट्रपति पद की शपथ लेंगे। शनिवार को उपराष्ट्रपति के लिए संसद भवन में मतदान सम्पन्न हुआ। उपराष्ट्रपति चुनाव में 98.21 फीसदी वोटिंग हुई है। इस बार उपराष्ट्रपति चुनाव में कुल 785 वोटों में से 771 वोट पड़े। इस वोटिंग में 14 सांसद गैर हाजिर रहे। जो सांसद वोटिंग के दौरान गैर हाजिर रहे उनमें बीजेपी के दो, कांग्रेस के दो, आईयूएमएल के दो, टीएमसी के 4, एनसीपी के एक, पीएमके के एक और दो निर्दलीय शामिल हैं।

बीजेपी से विजय गोयल और सांवर लाल जाट उपराष्ट्रपति चुनाव से गैरहाजिर रहे। वहीं टीएमसी के कुणाल घोष, तापस पॉल, प्रतिमा मंडल और अभिषेक बनर्जी शामिल नहीं हुए। कांग्रेस से मौसम नूर, रानी नाराह, एनसीपी से उदयन राजे भोसले, पीएमके से अम्बुमणि रामदास ने वोट नहीं डाले। आईयूएमएल से अब्दुल वहाब और पीके कुन्हालीकुट्टी और निर्दलीय सांसदों में अनु आगा, नाबा कुमार सारानिया ने वोट नहीं दिया। शाम 6 बजे वोटों की गिनती शुरू हुई, और 7 बजे चुनाव परिणाम की घोषणा की गई। इससे पहले उपराष्ट्रपति चुनाव में एनडीए ने पूर्व केंद्रीय मंत्री वेंकैया नायडू को मैदान में उतारा, जबकि यूपीए की तरफ से महात्मा गांधी के पौत्र गोपालकृष्ण गांधी चुनाव मैदान में थे।

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए Pileekhabar के Facebook पेज को लाइक करें

loading…


Loading…



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *