वित्त मंत्री अरुण जेटली को सॉफ्ट टिश्यू सरकोमा नाम का एक दुर्लभ किस्म का कैंसर होने का पता चला है। वे इलाज के लिए अमेरिका गए हैं। जेटली को ऐसे समय में इलाज के लिए जाना पड़ा है, जब वित्त मंत्रालय में अंतरिम बजट की तैयारियां जोरों पर हैं। यह मोदी सरकार के कार्यकाल का अंतिम बजट है। एक सूत्र ने बुधवार को बताया कि जेटली संभवत: 1 फरवरी को अंतरिम बजट पेश नहीं कर पाएंगे। 31 जनवरी से बजट सत्र शुरू हो रहा है। उधर, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को स्वाइन फ्लू होने के कारण बुधवार को दिल्ली एम्स में भर्ती कराया गया। शाह ने यह जानकारी ट्वीट कर दी।
66 साल के जेटली का पिछले साल 14 मई को एम्स में गुर्दा प्रत्यारोपण हुआ था। रविवार को उनके अमेरिका रवाना होते वक्त माना गया था कि वह गुर्दे की बीमारी से जुड़ी जांच के लिए ही गए हैं। उनकी वापसी की तारीख को लेकर अभी कोई जानकारी साफ नहीं है।
गुर्दा प्रत्यारोपण के बाद जेटली के ऑफिस में लौटने तक रेल मंत्री पीयूष गोयल ने वित्त मंत्रालय का कार्यभार संभाला था। सितंबर 2014 में जेटली की बैरियाट्रिक सर्जरी भी हुई थी। अंतरिम बजट में सरकार करदाताओं और किसानों को खुश करने के लिए सरकार कोई बड़ा कदम उठा सकती है।
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, आरजेडी नेता लालू प्रसाद यादव, नेशनल कॉन्फ्रेंस नेता उमर अब्दुल्ला और कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद ने उनके जल्द ठीक होने की कामना की।



loading…

Loading…






Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *