लालू यादव की बेटी चंदा ने 2014 में CM के पते का किया इस्तेमाल : सुमो

 76 



उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने लालू परिवार की बेनामी मामले में एक बड़ा खुलासा करते हुए कहा कि राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद की बेटी चंदा यादव ने वर्ष 2014 में अपना पता 1,अणे मार्ग बताया है, जबकि वहां कई साल पहले से मुख्यमंत्री नीतीश कुमार रहते हैं. सवाल है कि लालू प्रसाद कि बेटी ने अपने पते के रूप में CM के पते का इस्तेमाल क्यों किया?
लालू और तेजस्वी यादव को बताना चाहिए कि 76.32 लाख में फेयरग्रो के माध्यम से खरीदी गई जमीन कहां है? आखिर एक बार कंपनी के ब्योरे में इस रकम की कीमत का मकान दिखाया गया है, जबकि दूसरी बार में वहां पर सिर्फ जमीन का उल्लेख किया गया है.


उपमुख्यमंत्री मोदी ने कहा कि तेजस्वी यादव पिछली पांच कंपनियों के समान एक और मुखौटा कम्पनी के माध्यम से करोड़ों के सम्पत्ति के मालिक बन गए. उपमुख्यमंत्री ने कहा कि यह वही जमीन है जिसकी तलाश आयकर विभाग एक वर्ष से कर रहा था. आयकर विभाग ने तेजस्वी और तेज प्रताप यादव की 3.67 करोड़ की पटना शहर के अत्यंत पॉस इलाके 5, राईडिंग रोड में 7105 वर्ग फीट में बने दो मंजिला मकान को औपबंधिक रूप से जब्त कर लिया है.
भाजपा ने 27 जून 2017 को ही खुलासा किया गया था कि तेजस्वी और लालू परिवार की छठी मुखौटा कम्पनी फेयरग्रो होल्डिंग प्राईवेट लिमिटेड है जिसके माध्यम से पटना शहर में कीमती जमीन और मकान की खरीद की गई है. उस समय यह पता नहीं चल पाया था कि आखिर 78.32 लाख में फेयरग्रो के माध्यम से खरीदी गई जमीन कहां है?

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए Pileekhabar के Facebook पेज को लाइक करें

loading...


Loading...



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *