लालू के पुत्र मोह के कारण टूटा महागठबंधन, राजद विधायक

 74 


राजद विधायक महेश्वर यादव ने कहा कि महागठबंधन लालू प्रसाद के पुत्र मोह के कारण टूटा है. तेजस्वी यादव पर केस दर्ज होने के बाद कई विधायकों ने कहा था कि उन्हें डिप्टी सीएम पद से इस्तीफा दे देना चाहिए, लेकिन लालू नहीं माने।
राजद में लालू प्रसाद के विरोध में कोई भी खुलकर बयान नहीं देता, लेकिन मामला इतना आगे बढ़ गया है कि अब राजद विधायक भी अपने पार्टी अध्यक्ष के फैसले के विरोध में बोल रहे हैं.


महेश्वर यादव ने कहा कि जनता ने हमें पांच साल के लिए चुना था. महागठबंधन और सरकार भी अच्छी चल रही थी, लेकिन एक जीद के चलते महागठबंधन टुटा और राजद को बिहार की सत्ता से बाहर होना पड़ा. सूत्रों के अनुसार राजद के अंदर सरकार से बाहर होने को लेकर काफी गहमा- गहमी है. दस वर्ष बाद मिली सत्ता से एकाएक बेदखल होने को लेकर विधायकों के अंदर काफी क्षोभ है. पार्टी विधायक महेश्वर यादव के इस तीखे बयान के राजनैतिक गलियारे में काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है.
राजद के आम कार्यकर्ताओं में भी पुरे घटनाक्रम को लेकर काफी दुःख और विक्षोभ है. “कल चमन था आज ये वीरां हुआ, जिद में तुमने अपने ये क्या किया?” राजद समर्थक टीपू सुल्तान ने अपने दोस्तों के साथ यह कमेंट किया. वे बुधवार को देशरत्न मार्ग घूमने के बाद रात पौने दस बजे एक अणे मार्ग पहुंचे थे. टीपू सुल्तान ने कहा कि यह नेताजी (लालूजी) की बड़ी भूल थी. उनको तेजस्वी को इस्तीफा दिलाना चाहिए था, इससे तेजस्वी हीरो बन जाते लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया. अपनी जिद में पूरी पार्टी को डूबो बैठे. अब बताइए सत्ता चली गयी.

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए Pileekhabar के Facebook पेज को लाइक करें

loading…


Loading…



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *