रेलवे पटरियों के पास बनी झोपड़ियों में रहने वाली बेहद गरीब दलित परिवार की बेटी पूजा नायक ने IAS बन पुरे देश में अपने लगन का लोहा मनवाया है।
श्रीगंगानगर रेलवे पटरियों के पास बनी एक अनजान झोपड़ी में रहने वाली पूजा नायक के बारे मे जानने को आज पुरे देश के लोग बैचैन हैं। पूजा जब मात्र 4 वर्ष की थी तब आज से 17 साल पहले उनके पिता की मौत हो गयी थी।

पूजा नायक बहुत ही गरीब पारिवारिक पृष्ठभूमि से आती हैं। उनके घर मे बिजली तक नहीं है, उन्होंने किसी तरह स्ट्रीट लाइट की रोशनी में ही अपनी पढ़ाई की है। पूजा की मां ने किसी तरह मजदूरी कर अपनी तीन बेटियों और एक बेटे का पालन पोषण किया, उन्हें पढ़ाया। पूजा का भाई भी अभी बेरोजगार ही है।
पूजा नायक के ज़ज्बे, उनकी मेहनत और लगन को pileekhabar.com सलाम करता है। हमें विश्वास है कि आने वाले समय में देश के लाखों गरीब बच्चों के लिए ये एक रौल माडल बनेंगी, एक बार फिर बधाई…….

ताज़ा अपडेट पाने के लिए हमारे पेज को लाइक करें

loading…

Loading…





Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *