प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रूस पहुंच गए हैं, जहाँ गुरुवार को सेंट पीटरबर्ग में रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के साथ 18वें भारत-रूस वार्षिक सम्मेलन में भाग लेंगे. इसके अगले दिन सेंट पीटरबर्ग में ही मोदी अंतरराष्ट्रीय आर्थिक मंच में शामिल होंगे. जहां भारत पहली बार साझेदार देश बनेगा.
प्रधानमंत्री मोदी की यात्रा से पहले बुधवार को रूस के एक अखबार रोसिसकाया गजट में छपे एक लेख में मोदी ने लिखा है कि हम अच्छे और बुरे, हर वक्त में साथ रहे हैं. आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में भारत और रूस ‘नैसर्गिक साझीदार’ हैं. उन्होंने कहा कि दोनों देशों को अपने संबंधों के विस्तार के लिए नये क्षेत्र में प्रयास करना चाहिए जो ‘काफी जांचा-परखा है.
रूस के अखबार में छपे लेख में मोदी ने लिखा है कि- भारत-रूस के संबंध 1947 के बाद नाटकीय रूप से बदले विश्व में सबसे स्थायी रहे हैं. यह समय की कसौटी पर खरे उतरे और मजबूती के साथ विकसित होते गए. हमारे संबंधों का लचीलापन इस तथ्य पर आधारित है कि यह समानता, विश्वास और परस्पर लाभ के सिद्धांतों पर आधारित है.

प्रधानमंत्री ने भारत में औद्योगिक ढांचे के विकास में पूर्ववर्ती सोवियत संघ के सहयोग की प्रशंसा करते हुए कहा कि पिछले 70 वर्षों में भारत एक बड़े और विविध औद्योगिक एवं प्रौद्योगिकी आधार के रूप में विकसित हुआ है. हम दुनिया की सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्थाओं में से एक हैं.
मोदी ने कहा कि 1991 की घटनाओं के बाद रूस फिर से अंतरराष्ट्रीय पहुंच और प्रभाव के साथ वैश्विक शक्ति के रूप में उभरा है. इसकी अर्थव्यवस्था का आधुनिकीकरण हुआ है और नई पीढ़ी देश को आगे ले जा रही है. सैन्य प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में हमारा सहयोग भारत-रूस संबंधों की मजबूती का स्तम्भ है. रूस के उपकरण और प्रौद्योगिकी हमारे रक्षा बलों का मुख्य आधार हैं.
प्रधानमंत्री ने कहा कि हमारी समकालीन साझेदारी का प्रतीक आज सखालिन एक में भारतीय निवेश और वेंकोर तथा तास-युरयाख तेल के कुएं में निवेश है, कुडनकुलम में नाभिकीय उर्जा संयंत्र और ब्रह्मोस संयुक्त उपक्रम परियोजना है. भारत रूस के दवा उद्योग क्षेत्र में महत्वपूर्ण भागीदार है लेकिन हम अपनी उपलब्धियों से संतुष्ट नहीं हो सकते और न होना चाहिए, हमें और नये क्षेत्र खोजने व खोलने का प्रयास करना चाहिए.

ताज़ा अपडेट पाने के लिए हमारे पेज को लाइक करें

loading…

Loading…





Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *