मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि राम मंदिर निर्माण का मुद्दा आपसी बातचीत से सुलझे या फिर लोग सुप्रीम कोर्ट के फैसले का इंतजार करें. उन्होंने कहा कि हालात देखते हुए ऐसा नहीं लग रहा कि यह हल आपसी बातचीत से निकलेगा, इसलिए हमें कोर्ट के फैसले का इंतजार करना चाहिए.
मुख्यमंत्री ने लोक संवाद के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि PM कैंडिडेट के सवाल पर NDA एकजुट है, 2019 में नरेंद्र मोदी ही प्रधानमंत्री बनेंगे. उन्होंने राम मंदिर के मामले में पर कहा कि राम मंदिर निर्माण का मुद्दे आपसी बातचीत से सुलझे या फिर लोग सुप्रीम कोर्ट के फैसले का इंतजार करें. लेकिन हालात को देखते हुए लगता नहीं है कि आपसी बातचीत से इसका हल निकलेगा, इसलिए हमें कोर्ट के फैसले का इंतजार करना चाहिए. सुप्रीम कोर्ट का जो भी फैसला होगा वह हमें मंजूर होगा.
नीतीश कुमार ने ट्रिपल तलाक पर कहा कि बिना मुस्लिम समाज की सहमति के कोई कानून नहीं बनना चाहिए. इस मामले में लोगों को प्रेरित किया जाना चाहिए ताकि मुस्लिम समाज में ट्रिपल तलाक को लेकर जो भी ऋुटि है, उसे दूर किया जा सके.
मुख्यमंत्री ने कहा कि हमने क्राइम, करप्शन और कम्यूनलिज्म से कभी समझौता नहीं किया है और आगे भी नहीं करेंगे. भ्रष्टाचार के किसी मामले को राजनैतिक एंगल नहीं दिया जाना चाहिए. अगर कोई आरोप लगाता है कि किसी को भ्रष्टाचार के मामले में फंसाया जा रहा है तो कोर्ट में सब साफ हो जाएगा. किसी का भी नाम लिए बगैर नेता विपक्ष पर हमला करते हुए उन्होंने कहा कि जिन लोगों ने बिना काम के धन अर्जित किया है, उन्हें हिसाब देना चाहिए.
मुख्यमंत्री ने कहा कि बिहार में लोगों के लिए कई योजनाएं चलाई जा रही हैं. सात निश्चय योजना की लगातार उछ स्तरीय समीक्षा की जा रही है. हर घर तक सड़क और नल की व्यवस्था करने के लिए हम कृत संकल्पित हैं. हमारी कोशिश होती है कि व्यवस्था को इस तरह लागू करें ताकि कोई कहीं गड़बड़ी न कर सके. मैं खुद सभी योजनाओं की मॉनिटरिंग कर रहा हूँ.



loading…

Loading…






Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *