राम मंदिर; जगदगुरु शंकराचार्य, अखाड़ा परिषद व रामराज स्थापना महामंच करेंगे अयोध्या कूच

 16 


द्वारिका पीठाधीश्वर जगदगुरु शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती ने बसंत पंचमी को अयोध्या कूच का आह्वान करते हुए राम मंदिर के शिलान्यास का ऐलान कर दिया. वहीं अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेन्द्र गिरि ने भी महाकुंभ के बाद अयोध्या कूच का ऐलान किया है. उधर रामराज स्थापना महामंच ने इन सभी से पहले 27 जनवरी को ही राम मंदिर की आधारशिला रखने की घोषणा कर दी है.
राम मंदिर मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट में लगातार पड़ रही तारीखों और केन्द्र सरकार, विहिप तथा RSS के असमंजस से तमाम विपक्षियों के हौसले फ़िलहाल बुलंद हैं. यही कारण है कि सभी अपने- अपने स्तर पर दबाव बनाने और पुरे मामले में बढ़त लेने की रणनीति बनाने में जुटे हुए हैं. विभिन्न सामाजिक संगठनों के संयुक्त महामंच के पदाधिकारियों ने पिछले दिनों अयोध्या का दौरा कर श्रीरामजन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष एवं मणिराम छावनी के पीठाधीश्वर महंत नृत्यगोपाल दास से भेंट की थी और उनसे राम मंदिर निर्माण के लिए शीघ्र पहल करने का आग्रह किया था.
विभिन्न संगठनों के पदाधिकारियों ने संयुक्त हस्ताक्षरित पत्र में राम मंदिर निर्माण के लिए अब और प्रतीक्षा नहीं करने का ऐलान करते हुए मंदिर के शिलान्यास के लिए तिथि की घोषणा भी कर दी है. इसके अनुसार 27 जनवरी को अपराह्न एक बजे श्रीरामजन्मभूमि के प्रवेश द्वार पर प्रतीक स्वरूप आधारशिला रखी जाएगी. इस क्रम में कहा गया कि यह आधारशिला सौहार्द का प्रतीक होगी, इसमें एक ईंट हिन्दू व एक ईंट मुस्लिम की ओर से रखी जाएगी. ऐलान के साथ ही कहा गया है कि राम मंदिर पर सौ करोड़ हिन्दुओं की आस्था से खिलवाड़ करने के साथ-साथ हिन्दू- मुसलमानों को लड़ाने की साजिश की जा रही है. 70 सालों से रामलला मिट्टी के ढेर पर धूप, वर्षा व शीत झेलते हुए अदालत के आदेश की प्रतीक्षा कर रहे हैं, लेकिन उनके नाम पर सत्ता के शिखर पर बैठे लोग वातानुकूलित कक्षों में ठाठ कर रहे हैं.
रामराज स्थापना महामंच ने निर्णय किया कि वह राम मंदिर के लिए संघर्षरत संतों के आशीर्वाद और उनके सानिध्य में देश में सौहार्द और भाईचारा कायम रखते हुए मंदिर निर्माण का श्रीगणेश करेगा. इस पत्र पर हस्ताक्षर करने वालों में महामंच के केन्द्रीय अध्यक्ष, अखिल भारतीय समग्र विचार मंच, सनातन महासभा के उपाध्यक्ष, जेसी फाउन्डेशन के एमडी, मुस्लिम कारसेवक मंच के अध्यक्ष, भगवा रक्षा वाहिनी के उत्तर प्रदेश अध्यक्ष, सूफी संत सेवा समिति तथा रामराज स्थापना महामंच के अध्यक्ष विमलेश अवस्थी व संयोजक महंत भीम दास शामिल हैं.



loading…

Loading…






Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *