मोदी-शिंजो का भव्य रोड शो, साबरमती आश्रम, सीदी सैयद मस्जिद के बाद डिनर

 106 


जापान के प्रधानमंत्री शिंजो अबे के दो दिवसीय भारत दौरे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वयं प्रोटोकाल तोड़ते हुए अहमदाबाद एयरपोर्ट पर जापानी समकक्ष को गले लगाकर स्वागत किया। अबे को एयरपोर्ट पर ही गार्ड ऑफ ऑनर देने के बाद दोनों नेता खुली जीप में सवार हो 8 किमी लंबे रोड शो में हिस्सा लिया।
रोड शो सरदार बल्लभ भाई पटेल अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट से शुरू हो कर साबरमती आश्रम पर खत्म हुआ। जापान के प्रधानमंत्री और उनकी पत्नी एकी अबे ने मोदी के साथ साबरमती आश्रम में महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि दी। इस दौरान मोदी ने साबरमती आश्रम में महात्मा गांधी की चरखे और तीन बंदरों के बारे में भी जानकारी दी। इसके बाद दोनों प्रधानमंत्री साबरमती रिवर फ्रंट पहुंचे।
इस भव्य रोड शो में 28 स्थानों पर सांस्कृतिक झांकियां दिखाई गईं। 28 अलग-अलग राज्यों के नर्तकों ने पारंपरिक वेशभूषा में अपनी कला का प्रदर्शन किया। रोड शो साबरमती रिवरफ्रंट पर खत्म हुआ। शिंजो अबे और पीएम मोदी ने साबरमती रिवर फ्रंट पर भी थोड़ा वक्त बिताया। इसके बाद दोनों नेता मशहूर सीदी सैयद मस्जिद पहुंचे।
प्रधानमंत्री मोदी ने जापानी PM को 400 साल पुरानी अहमदाबाद की मश्हूर सिदी सईद मस्जिद की अहमियत और इतिहास के बारे में बताया। यह मस्जिद संस्कृति और खूबसूरती का मिश्रण है। इस मस्जिद की खास बात है कि शाम के वक्त जब ढलते सूरज की किरणें मस्जिद की जाली से निकलती हैं, तो वो नजारा अद्भुत होता है। दोनों नेताओं ने राज्य की ऐतिहासिक विरासत पर एक प्रेजेंटेशन भी देखा। इस दौरान शिंजो अबे और उनकी पत्नी भारतीय परिधान में नज़र आए। शिंजो और उनकी पत्नी को मोदी अहमदाबाद के बुटीक हेरीटेज होटल हाउस ऑफ़ मंगलदास गिरधरदास में ख़ास डिनर के लिए ले गये।


टोक्यो से विशेष विमान से सीधे अहमदाबाद पहुंचे अबे और मोदी ने एक दूसरे से हाथ मिलाया और फिर गले लगे। जापान के प्रधानमंत्री शिंजो अबे और भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ये 11वीं मुलाकात है, पिछले तीन साल के दौरान मोदी और अबे 10 बार मिल चुके हैं। चीन के साथ डोका ला विवाद में मजबूत समर्थन की पृष्ठभूमि में भारत आए अबे और मोदी के बीच काफी गर्मजोशी दिखी। संभवत: देश में किसी विदेशी प्रधानमंत्री ने पहली बार रोड शो किया है। इस दौरान शिंजो अबे ने नीले रंग की नेहरू जैकेट और मलाईनुमा उजले रंग का कुर्ता पायजामा पहना था जबकि उनकी पत्नी ने दुपट्टे के साथ मेरुननुमा लाल रंग का कुर्ता और सलवार पहना हुआ था।
दोनों ने महात्मा गांधी के प्रिय भजनों के बीच बापू की प्रतिमा पर पुष्प चढ़ाए। मोदी स्वयं अबे दंपति को जानकारी देते रहे। आश्रम में गांधीजी के चरखे के साथ तस्वीर भी खिंचाई। साबरमती रिवरफ्रंट के हिस्से की तरफ एक चबूतरे पर थोड़ी देर तक वे कुर्सियों पर भी बैठे। अबे दंपति ने आगंतुक पुस्तिका में हस्ताक्षर किए।
भारत के दो दिवसीय यात्रा की शुरुआत करते हुए जापान के प्रधानमंत्री शिंजो अबे ने भारत के साथ अपने देश के संबंधों को बेहद महत्वपूर्ण और विशेष करार दिया। उन्होंने कहा कि जापान, भारत के तीव्र आर्थिक विकास में सहयोग के तौर पर अपना प्रौद्योगिकी समर्थन जारी रखेगा। अबे ने कहा कि प्रति वर्ष करीब 100 जापानी कंपनियां कारोबार के लिए भारत आ रही हैं। अक्तूबर 2016 में 1305 जापानी कंपनियां काम कर रही थीं। भारत और जापान के तकनीशियन विनिर्माण इकाइयों में साथ मिलकर काम कर रहे हैं और इस तरह से भारत-जापान आर्थिक संबंधों को जमीनी स्तर पर मजबूत बनाने में योगदान कर रहे हैं।

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए Pileekhabar के Facebook पेज को लाइक करें

loading...


Loading...



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *