मुस्लिम लड़की ने जीती गीता पाठ की प्रतियोगिता, कहा- मोदी जी और योगी जी से मिली प्रेरणा

 76 

राजधानी लखनऊ में आयोजित की गई ‘गीता पाठ प्रतियोगिता’ में पहला स्थान हासिल करने वाली मुस्लिम छात्रा आफरीन रउफ सुर्खियों में बनी हुई हैं। पूछे जाने पर आफरीन बताया कि उन्हें गीता पढ़ने की प्रेरणा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ से मिली है। संस्कृत में मोदी और योगी के श्लोक सुनने से वह काफी प्रभावित हुईं। वह कहती हैं इसी से उन्होंने संस्कृत सुनने और सीखने की प्रेरणा मिली। आफरीन कहती हैं कि उन्हें उम्मीद है कि पीएम और सीएम उनके प्रयासों को स्वीकार करेंगे। बता दें कि इससे पहले राजस्थान में गीता पर संस्कृत में निंबध प्रतियोगिता में 16 साल के एक मुस्लिम छात्र ने पहला स्थान हासिल किया था। राज्य स्तर पर हुई इस प्रतियोगिता में पहला स्थान हासिल करने वाले नदीम खान ने तब कहा था कि उन्हें संस्कृत से बहुत लगाव है।

18 दिसंबर को अक्षय पात्र फाउंडेशन द्वारा आयोजित किए गए ‘गीता उत्सव’ की खास बात यह रही कि इसमें अन्य दो चोटी के स्थान भी मुस्लिम छात्रों ने हासिल किए। प्रतियोगिता में जयपुर की जाहीन नक्वी (कक्षा-2) दूसरे नबंर पर जबकि जोराबिया नागौरी (कक्षा-4) तीसरे स्थान पर रहीं। सभी विजेताओं को पुरस्कार 20 दिसंबर दिए गए।
राजस्थान के सरकारी स्कूल में कक्षा-10 के छात्र नदीम खान ने आगे बताया कि उन्हें कक्षा-6 के सिलेबस में संस्कृत पढ़ने का मौका मिला। जिन भाषाओं को वह जानते हैं उनमें संस्कृत सबसे अच्छी लगी। मजदूर के बेटे खान के अनुसार, ‘मैंने कभी नहीं सोचा था कि मैं संस्कृत बोलूंगा, यहां तक मुझे क्लास में भी संस्कृत बोलने का मौका मिला। इस प्रतियोगिता ने भाषा के प्रति मेरी भक्ति को स्वीकार किया।’
जानकारी के लिए बता दें कि तीन श्रेणियों में आयोजित की गई इन प्रतियोगितो में राजस्थान के 200 स्कूलों के आठ हजार छात्रों ने भाग लिया था। दूसरी तरफ जाहीन नक्वी द्वारा प्रतियोगिता में पुरस्कार जीतने पर पिता तनवीर अहमद (सरकारी कर्मचारी) ने कहा था कि उनकी बेटी ने इसके लिए काफी मेहनत की। हर रोज घंटों तक वह संस्कृत भाषा का पाठ करती और उच्चारण करती। यह परिवार के लिए गर्व की बात है।

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए Pileekhabar के Facebook पेज को लाइक करें


loading...


Loading...