राकांपा (NCP) सुप्रीमो शरद पवार ने भविष्यवाणी की है कि 2019 लोकसभा चुनाव के बाद भाजपा सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभर सकती है, लेकिन उन्हें इन बात की संभावना नहीं लगती है कि नरेंद्र मोदी दूसरी बार प्रधानमंत्री बनेंगे। इस बार चुनाव मैदान में नहीं उतरने का ऐलान कर चुके पवार ने कहा, भाजपा सबसे ज्यादा सीटें जीतेगी, लेकिन अपने दम पर सरकार बनाने की स्थिति में नहीं रहेगी। उसे दूसरे दलों की मदद लेना होगी और इस स्थिति में संभव है कि मोदी दूसरी बार पीएम न बन सकें।
मालूम हो, लोकसभा चुनाव से पहले साथी दलों से सीटों के बंटवारे पर भाजपा ने बाजी मार ली है। राजनीतिक विशेषज्ञों को लगता है कि भाजपा ने बड़ा दिल दिखाते हुए राज्यों में सहयोगी दलों को आगे रखा है। शरद पवार को लगता है कि सहयोगी दल मोदी को फिर से पीएम बनाने के लिए तैयार नहीं होंगे। इसमें शिवसेना भी शामिल हो सकती है जो लगातार मोदी की नीतियों पर प्रहार करती रही है। शिवसेना संकेत दे चुकी है कि वह पीएम पद के लिए नितिन गडकरी को ज्यादा पसंद करेगी। हालांकि गडकरी इससे साफ इन्कार कर चुके हैं।
महाराष्ट्र में एनसीपी और कांग्रेस मिलकर चुनाव लड़ेंगे। उनका सीधा मुकाबला भाजपा-शिवसेना गठबंधन से होगा।पवार कह चुके हैं कि वे इस बार का लोकसभा चुनाव नहीं लड़ेंगे। बीते सोमवार को पवार की ओर से जारी बयान में कहा गया कि उनके परिवार के दो सदस्य चुनाव मैदान में उतर रहे हैं, इसलिए उन्होंने चुनाव नहीं लड़ने का फैसला किया है। वे 14 बार चुनाव मैदान में उतर चुके हैं।
मौजूदा समय में पवार की बेटी सुप्रिया सुले बारामती लोकसभा सीट से सांसद हैं, जबकि उनके भतीजे अजीत पवार महाराष्ट्र विधानसभा के सदस्य हैं। इस बीच पवार के बेटे पार्थ पवार के सक्रिय राजनीति में आने की अटकलें लगाई जा रही थीं। कहा जा रहा है कि वे मवाल लोकसभा सीट से मैदान में उतर सकते हैं।


loading…

Loading…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *